कभी हमारी गाड़ियां चलाते थे पंजाबी, करते थे धूल साफ… AIMIM विधायक ने क्यों दिया ये बयान

Once upon a time, Punjabis used to drive our vehicles, used to clean the dust… Why did the AIMIM MLA give this statement?
Once upon a time, Punjabis used to drive our vehicles, used to clean the dust… Why did the AIMIM MLA give this statement?
इस खबर को शेयर करें

किशनगंज: ‘पंजाब का पंजाबी, पंजाबी कुर्ता पहने, पगड़ी पहने हुए हमारे बुजुर्गों के पांव की धूल साफ करता था’ यह विवादित बयना य बिहार AIMIM के प्रदेश अध्यक्ष सह अमौर से विधायक अख्तरुल ईमान ने AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी के मौजूदगी में सीमांचल के पिछड़ेपन पर निशाना साधते हुए दिया। उन्होंने आजादी के बाद 1970 तक बिहार के दूसरे इलाके से सीमांचल में खुशहाली की बात कहते हुए कहा कि बिहार के दूसरे जिलों से सीमांचल में लोग मजदूरी के लिए आते थे। यह इलाका पहले ऐसा नहीं था।

जन सभा को संबोधित करते हुए कहा कि आप जान रहे हो कि पंजाब का पंजाबी,पंजाबी कुर्ता पहने, पगड़ी पहने हुए हमारे बुजुर्गों के पांव की धूल साफ करता था। इसलिए जिस बस में हम चढ़कर जाते थे, उस बस में सरदार जी खलासी और ड्राइवर हुआ करते थे। लेकिन आज कौन सा दिन आ गया है कि हमारा बेटा कोई दिल्ली और पंजाब में आज जाता है। पंजाबियों के होटल में नौकरी करने की मजबूरी हो गयी है। 12 साल का बच्चा दिल्ली के होटलों में पोंछा मरता है। मां बिस्तर में बीमार है लेकिन पेट की आग है, दवा के पैसे नहीं, दिल्ली जाना उसकी मजबूरी है। मां की लाश को पड़ोसी दफनाता है।

बता दें कि AIMIM अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी अभी दो दिवसीय सीमांचल दौरे पर हैं। जिसे सीमांचल अधिकार यात्रा का नाम दिया गया है। अपनी इसी यात्रा के दौरान अमौर के खाड़ी घाट पर एक विशाल जनसभा आयोजित की गयी थी। जिसमें असदुद्दीन ओवैसी ने भी नीतीश कुमार, तेजस्वी, महागठबंधन और मोदी सरकार पर सीमांचल के पिछड़ेपन को लेकर जमकर निशाना साधा।