17 राज्यों में 7 अक्टूबर तक भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट, जानें UP-बिहार-दिल्ली पर मौसम विभाग का पूर्वानुमान

मौसम विभाग में बंगाल और उड़ीसा में भी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया। दरअसल बंगाल की खाड़ी में बन रहे दबाव के क्षेत्र के 2 से 3 अक्टूबर के बीच डिप्रेशन में बदलने की संभावना जताई गई है।

Orange alert for heavy rain in 17 states till October 7, know the weather department's forecast on UP-Bihar-Delhi
Orange alert for heavy rain in 17 states till October 7, know the weather department's forecast on UP-Bihar-Delhi
इस खबर को शेयर करें

नई दिल्ली। देश के 17 राज्य में मौसम में बदलाव (Weather Update) देखने को मिल रहा है। IMD Alert के मुताबिक 4 अक्टूबर से एक बार फिर से बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव (Bay of Bengal Depression) का क्षेत्र उत्पन्न होगा। जिससे बारिश की गतिविधि देखी जाएगी। हालांकि जल्दी मानसून (Monsoon) की विदाई देखने को मिल रही है। वही देश में दो वेदर सिस्टम एक्टिव (Weather system active) है। जिसका प्रभाव देश के कई राज्यों पर पड़ रहा है जबकि मौसम विभाग ने 17 राज्यों में बारिश का ऑरेंज अलर्ट (Orange alert) जारी किया है।

दक्षिण पूर्वी क्षेत्र में भारी बारिश

मौसम विभाग के मुताबिक तेलंगना आंध्र प्रदेश सहित सटे हुए कर्नाटक और अंडमान निकोबार दीप समूह में व्यापक बारिश देखने को मिलेगी। इसके अलावा चमक के साथ बिजली गिरने की संभावना जताई गई है। साथ ही पूर्वी राज्यों की बात करें तो सिक्किम अरुणाचल मेघालय नगालैंड मणिपुर मिजोरम त्रिपुरा पश्चिम बंगाल झारखंड छत्तीसगढ़ उड़ीसा और कर्नाटक में भी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया। आसमान में बादल छाए रहेंगे। तापमान में गिरावट की जाएगी।

पर्वतीय क्षेत्र में बर्फ़बारी

वहीं मौसम विभाग में पर्वतीय राज्य जम्मू-कश्मीर हिमाचल उत्तराखंड सहित अन्य राज्यों में बर्फबारी के भी संकेत दिए हैं। पहाड़ों पर बर्फ की दस्तक शुरू हो गई है। इसके अलावा जम्मू-कश्मीर हिमाचल उत्तराखंड बिहार गुजरात मध्य प्रदेश गोवा केरल तमिलनाडु लक्षद्वीप में भी छिटपुट बारिश और गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना जताई गई है।

मौसम प्रणाली

वही मौसम बनाने की बातें तो राजस्थान में केंद्रित एंटी साइक्लोनिक सरकुलेशन निर्मित हुआ है । जिसके कारण से उसकी स्थिति उत्पन्न हुई अर्ध शुष्क क्षेत्र और आसपास के गंगा मैदान और मध्य हाइलैंड से दक्षिण पश्चिम मानसून की वापसी का प्रभाव मौसम पर देखने को मिलेगा। इसके अलावा देश के पूर्वी हिस्से में बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

उत्तरी अंडमान सागर से आंध्र प्रदेश की ओर जा रही एक ट्रक बारिश के लिए जिम्मेदार मानी जा रही है वहीं आंध्र प्रदेश की तरफ से एक बार फिर से दक्षिणी राज्य में बारिश का दौर देखने को मिलेगा। प्रशांत महासागर से तूफान नूरु के प्रभाव से बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव के क्षेत्र उत्पन्न हो रहे हैं।

चीन सागर से भी चक्रवात का असर बंगाल की खाड़ी पर पड़ता नजर आ रहा है। जिसे एक निम्न दबाव का क्षेत्र उत्पन्न हो सकता है। दुर्गा पूजा के दौरान बंगाल उड़ीसा और झारखंड में बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।
पूर्वी राज्यों में भारी बारिश

इसके अलावा तेलंगाना आंध्र प्रदेश से सटे कर्नाटक में गुरुवार से अगले शुक्रवार तक अलग-अलग जगह पर भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है दरअसल प्रशांत महासागर से एक रेखा दक्षिणी राज्यों को काटते हुए पूर्वी राज्यों की तरफ मुड़ रही है जिसके कारण महाराष्ट्र केरल कर्नाटक तमिलनाडु आंध्रप्रदेश झारखंड पश्चिम बंगाल से होते हुए उत्तरी राज्य असम मेघालय मणिपुर नागालैंड मिजोरम अरुणाचल प्रदेश में बारिश का कारण बन रही है।

इसके अलावा दक्षिण में एक प्रणाली सक्रिय होने की वजह से कोकन और आसपास के क्षेत्रों में इस सप्ताह रुक-रुक कर बारिश होती रहेगी। मानसून धीरे-धीरे अपनी कमजोर अवस्था में पहुंच गया है। मौसम विभाग के अनुसार अगले दो से 3 दिनों में पश्चिमी भारत के कुछ हिस्से से मानसून की विदाई हो जाएगी वहीं मानसूनी बारिश के कारण अभी कई इलाके तरबतर हैं।

दिल्ली-यूपी में बौछारें

दिल्ली में आसमान में बादल छाए रहेंगे न्यूनतम तापमान में 2 फीसद की गिरावट रिकॉर्ड की जाएगी। वहीं मौसम विभाग ने दिल्ली में बूंदाबांदी की संभावना जताई है। हालांकि उत्तर प्रदेश के पश्चिमी इलाकों में बारिश का दौर जारी रहेगा 30 सितंबर तक इन्हीं इलाकों में बूंदाबांदी के आसार जताए गए। हालांकि तटीय आंध्र प्रदेश 30 सितंबर तक भारी बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है।

MP-CG में माध्यम बारिश की सम्भावना

मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ गुजरात राजस्थान में आसमान में बादल छाए रहेंगे मौसम में ठंडक रहेगी। हालांकि बारिश की संभावना से इनकार किया गया है। कुछ क्षेत्रों में हल्की बूंदाबांदी देखने को मिल सकती है। दरअसल पश्चिम और मध्य भारत में एक भी मौसम प्रणाली एक्टिव नहीं होने की वजह से बारिश की गतिविधियों पर रोक लग रही है। हालांकि 4 अक्टूबर के बाद एक बार फिर से सिलसिला बदलेगा।

बिहार में वज्रपात

बिहार में वज्रपात के साथ बारिश का अलर्ट जारी कर दिया गया। दुर्गा पूजा की तैयारी को देखते हैं। मौसम विभाग द्वारा जिन जिलों में वज्रपात का अलर्ट जारी किया गया। उसमें पटना से को पूरा नालंदा बांका नवादा बेगूसराय लखीसराय जहानाबाद भागलपुर जमुई मुंगेर खगड़िया सुपौल अररिया किशनगंज मधेपुरा सहरसा पूर्णिया और कटिहार शामिल है। इन क्षेत्रों में आज बारिश देखने को मिल सकती है।

झारखंड में भारी बारिश

राजधानी रांची में तेज बारिश शुरू हो गई है। वहीं आज 2 से 3 घंटे के बीच झारखंड के पाकुड़ साहिबगंज दुमका गोड्डा रामगढ़ और आसपास के क्षेत्र सहित संथाल परगना में गरज चमक के साथ भारी बारिश की संभावना जताई गई है। मौसम विभाग ने इसके लिए अलर्ट जारी कर दिया है। साथ ही तेज हवा चलेगी।

झारखंड मौसम विभाग ने पूर्वानुमान जताते हुए कहा कि 30 सितंबर तक राजधानी सहित कई जिलों में बारिश की संभावना बरकरार रहेगी। मध्यम दर्जे की बारिश देखने को मिलेगी। बादल छाए रहेंगे। अधिकतम तापमान 29 व न्यूनतम तापमान 22 डिग्री सेल्सियस रहेगा।

बंगाल और उड़ीसा में भी भारी बारिश का अलर्ट जारी

मौसम विभाग में बंगाल और उड़ीसा में भी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया। दरअसल बंगाल की खाड़ी में बन रहे दबाव के क्षेत्र के 2 से 3 अक्टूबर के बीच डिप्रेशन में बदलने की संभावना जताई गई है। उसके बाद यह मध्य क्षेत्र की तरफ बढ़ेगा। इस बीच पश्चिम बंगाल और उड़ीसा के तटों पर भारी बारिश और गरज चमक देखी जाएगी।