शुरू हो गया फाल्‍गुन माह, जानें इस एक महीने में क्‍या करें क्‍या ना करें

Phalgun month has started, know what to do and what not to do in this month.
Phalgun month has started, know what to do and what not to do in this month.
इस खबर को शेयर करें

Falgun 2024: हिंदू कैलेंडर का 12वां और आखिरी महीना फाल्‍गुन मास 25 फरवरी यानी कि आज से शुरू हो गया है. यह महीना 25 मार्च तक रहेगा. फाल्‍गुन महीने में कई महत्‍वपूर्ण व्रत-त्‍योहार मनाए जाते हैं. फाल्‍गुन महीने में भगवान शिव और भगवान कृष्‍ण की पूजा का विशेष महत्‍व है. इसी महीने में शिवरात्रि और होली मनाई जाती है. साथ ही इस महीने में मौसम भी बेहद खुशनुमा रहता है, मानो प्रकृति भी जश्‍न मना रही हो. फाल्‍गुन मास को हिंदू धर्म में बहुत पवित्र और अहम माना गया है. साथ ही इस महीने को लेकर नियम भी बताए गए हैं, जिनका पालन करने से घर में सुख-समृद्धि आती है. भगवान का विशेष आशीर्वाद मिलता है.

फाल्गुन माह 2024

हिंदू पंचांग के अनुसार, फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की प्रतिपदा तिथि का आरंभ 24 फरवरी 2024 की शाम 5 बजकर 59 मिनट से हो गया है, जिसका समापन 25 फरवरी की रात 8 बजकर 35 मिनट पर है. उदयातिथि के अनुसार प्रतिपदा तिथि 25 फरवरी को मानी जा रही है. लिहाजा फाल्‍गुन महीने का प्रारंभ 25 फरवरी से माना जाएगा. वहीं 25 मार्च को पूर्णिमा तिथि पर फाल्‍गुन महीना समाप्‍त होगा.

फाल्गुन माह में इन बातों का रखें ध्‍यान

– फाल्‍गुन महीने में भगवान शिव और भगवान कृष्ण की पूजा-आराधना करें. यह इन दोनों की कृपा पाने का सुनहरा मौका होता है.

– फाल्‍गुन कृष्‍ण चतुर्दशी के दिन महाशिवरात्रि मनाई जाती है. इस दिन विधि-विधान से भगवान शिव का अभिषेक और पूजन करें. उन्‍हें बेलपत्र, धतूरा अर्पित करें. शिव जी आपके सारे कष्‍ट भी दूर करेंगे और अपार सुख-समृद्धि भी देंगे.

– फाल्गुन माह में घी, सरसों का तेल, वस्त्र और अनाज का दान करना शुभ होता है. कोशिश करें कि जरूरतमंदों को ये चीजें दान करें.

– जिन लोगों को शनि दोष है या चंद्र दोष है वो लोग फाल्‍गुन महीने में रोजाना शिवलिंग पर जल चढ़ाएं. इससे कुंडली के दोष दूर होते हैं.

– फाल्‍गुन पूर्णिमा की रात होलिका दहन होता है. ब्रज में तो फाल्‍गुन के पूरे महीने में होली खेली जाती है. होलिका दहन से पहले 8 दिन के होलाष्‍टक लगते हैं और इस दौरान कोई भी शुभ-मांगलिक कार्य ना करें. होलाष्‍टक में शुभ-मांगलिक कार्य वर्जित हैं.

– फाल्गुन महीना बहुत पवित्र होता है, इस माह में मांस-मदिरा का सेवन गलती से भी ना करें.

– फाल्गुन माह में फल और सब्जियों का सेवन ज्यादा करें.