PM Kisan Samman Nidhi: जानिए किसान सम्मान निधि की 11वीं किस्त में इस बार कितनी मिलेगी राशि

PM Kisan Samman Nidhi: दिल्ली-एनसीआर के लाखों किसानों के लिए अच्छी खबर है। जिन किसानों ने अपने खाते की ई-केवाईसी करवा ली है उनके खातें में 31 मई से पहले किसान सम्मान निधि का पैसा भेज दिया जाएगा

PM Kisan Samman Nidhi: Know how much amount will be received this time in the 11th installment of Kisan Samman Nidhi
PM Kisan Samman Nidhi: Know how much amount will be received this time in the 11th installment of Kisan Samman Nidhi
इस खबर को शेयर करें

नई दिल्ली। PM Kisan Samman Nidhi: दिल्ली-एनसीआर के लाखों किसानों के लिए अच्छी खबर है। जिन किसानों ने अपने खाते की ई-केवाईसी करवा ली है उनके खातें में 31 मई से पहले किसान सम्मान निधि का पैसा भेज दिया जाएगा। किसानों के लिए अभी भी मौका है कि वह अपने खाते की ई-केवाईसी करा लें ताकि 11 वीं किश्त का पैसा खाते में भेजा जा सके। किसान सम्मान निधि का पैसा लेने के लिए किसान अपने नजदीकी साइबर कैफे या फिर पीएम किसान की वेबसाइट पर जाकर अपनी ईकेवाइसी कर सकते हैं। जिन किसानों ने ई-केवाईसी नहीं करवाई है तो उनकी 11 वीं किस्त रोक दी जाएगी।

भारत सरकार (कृषि और कृषि कल्याण मंत्रालय) नई दिल्ली ने काफी दिन पहले दिल्ली एनसीआर के सभी जिलों में कृषि उपकृषि निदेशक को एक पत्र जारी किया था। इसमें सभी किसानों को अपने खाते की ई-केवाइसी कराने के लिए निर्देशित किया था। इसमें कहा गया था कि 11 वीं किश्त का पैसा प्राप्त करने से पहले किसान अपने खाते को आधार से लिंक कराते हुए एनपीसीआई से आधार सीड़िंग करा लें वरना भविष्य में कोई भी किसान सम्मान निधि की किस्त प्राप्त नहीं होगी।

दरअसल, पीएम किसान योजना के तहत हर साल 6 हजार रुपये की राशि सीधे किसानों के खाते में भेजी जाती है। यह राशि हर चार महीने के अंतराल पर दो-दो हजार रुपये करके दी जाती है। इसके पहले योजना की 10वीं किस्त के पैसे 1 जनवरी 2022 को किसानों के खाते में भेजे गए थे। अब किसानों को 11 वीं किश्त के पैसे का इंतजार है। हालांकि बहुत जल्द ही 11 वीं किश्त का पैसा खाते में भेज दिया जाएगा।

दरअसल दिल्ली एनसीआर में बड़ी संख्या में किसान ऐसे हैं, जिन्हें अभी तक किसान सम्मान निधि की किस्त नहीं मिल रही है। उनमें किसी का केवाइसी नहीं है तो किसी के खाते की एनपीसीआइ नहीं हो रही है। लोनी के किसान रामअवतार सोलंकी ने बताया कि काफी दिन से बैंक के चक्कर काट रहा हूं, लेकिन अभी तक योजना का लाभ नहीं मिल रहा है।

पिलखुवा के आलमपुर फगौता गांव, समाना, पिलखुवा आदि जगहों के किसानों ने हापुड़ जिले में किसान सम्मान निधि नहीं मिलने की शिकायत दर्ज कराई थी। हालांकि अब उनकी समस्या का समाधान हो गया है। इसी तरह गाजियाबाद में भी किसानों ने विभाग में शिकायती पत्र देकर किसान सम्मान निधि की समस्या के समाधान की मांग की थी। ये किसान भी किश्त के पैसे का इंतजार कर रहे हैं।

किसान अपने नजदीकी जन सुविधा केंद्र या जनसेवा केंद्र व कैफे पर जाकर अपना ई-केवाइसी करा सकते हैं। इसके लिए अपना आधार व आधार नंबर से लिंक मोबाइल नंबर ले जाना जरूरी होगा।
किसान स्वयं भी PMKISAN.gov.in पर जाकर अपना ई-केवाइसी कर सकते हैं।
सभी किसान अपने आधार को बैंक में जाकर खाते की केवाइसी तथा खाते को एनपीसीआइ से सीडिंग करा सकते हैं।