रैली में देरी से पहुंचे पीएम मोदी बैठ गये घुटनों पर और मांगने लगे माफी, पब्लिक ने…

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी(Prime Minister Narendra Modi) ने अपने दो दिनी (29 और 30 सितंबर) गुजरात के दौरे के तहत 30 सितंबर अंबाजी में 7200 करोड़ के विभिन्न प्रोजक्ट्स का शिलान्यास और लोकार्पण किया।

PM Modi, who arrived late in the rally, sat down on his knees and started apologizing, the public...
PM Modi, who arrived late in the rally, sat down on his knees and started apologizing, the public...
इस खबर को शेयर करें

आबूरोड(सिरोही). प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी(Prime Minister Narendra Modi) ने अपने दो दिनी (29 और 30 सितंबर) गुजरात के दौरे के तहत 30 सितंबर अंबाजी में 7200 करोड़ के विभिन्न प्रोजक्ट्स का शिलान्यास और लोकार्पण किया। अंबाजी मंदिर में दर्शन और पूजा की। अंबाजी के गब्बर तीर्थ में महाआरती में शामिल हुए। पीएम आवास योजना के तहत बनाए गए 45,000 से अधिक घरों का लोकार्पण और शिलान्यास। अंबाजी विजिट के दौरान पीएम मोदी देर रात वहां से सटे राजस्थान के आबूरोड(सिरोही जिले) पहुंचे। यहां उन्हें एक जनसभा को संबोधित करना था। लेकिन सबसे बड़ी यह रही कि कार्यक्रम में देरी से पहुंचने पर जनता से घुटनों के बल बैठकर क्षमा मांगी। वहीं, नियमानुसार 10 बजे के बाद लाउडस्पीकर का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता था, लिहाजा उसके बिना ही सभा में कुछ देर के लिए अपनी बात रखी। पढ़िए पूरी कहानी..

मेरी अंतरात्मा कहती है कि मुझे नियमों का पालन करना चाहिए
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार(30 सितंबर) को राजस्थान के सिरोही के आबू रोड इलाके में एक रैली को कुछ क्षण ही संबोधित किया। वह कार्यक्रम स्थल पर देर से पहुंचने पर बोले कि उन्हें लाउडस्पीकर के रूल्स और रेगुलेशंस का पालन करना होगा। उन्होंने सभा को अच्छे से संबोधित नहीं कर पाने के लिए माफी मांगी और वादा किया कि वह फिर से सिरोही आएंगे। मोदी ने बिना माइक और लाउडस्पीकर के बोलते हुए कहा, “मुझे पहुंचने में देर हो गई। रात के 10 बजे हैं। मेरी अंतरात्मा कहती है कि मुझे नियमों का पालन करना चाहिए। इसलिए, मैं आपके सामने माफी मांगता हूं।”

मोदी ने कहा-“लेकिन, मैं आपसे वादा करना चाहता हूं कि मैं यहां फिर से आऊंगा और जो प्यार और स्नेह आपने मुझे दिया है, उसे ब्याज के साथ चुकाऊंगा।” पीएम मोदी ने तब “भारत माता की जय” का नारा लगाया, जिसे लोगों ने दोहराया।

इससे पहले प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष सतीश पूनिया, पूर्व सीएम वसुंधरा राजे, केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता गुलाब चंद कटारिया और उनके डिप्टी राजेंद्र राठौर ने पीएम मोदी का स्वागत किया।

पार्टी सूत्रों ने बताया कि रैली में सिरोही, डूंगरपुर, बांसवाड़ा, चित्तौड़गढ़, प्रतापगढ़, बांसवाड़ा, पाली, उदयपुर और आसपास के 40 विधानसभा क्षेत्रों के पार्टी कार्यकर्ता शामिल हुए थे। रैली की योजना दक्षिणी राजस्थान में पार्टी कार्यकर्ताओं के मनोबल को बढ़ाने के मकसद से बनाई गई थी। आबू रोड की सीमा चुनावी गुजरात से लगती है।

बता दें कि कांग्रेस शासित राजस्थान में अगले साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं। गुजरात के बनासकांठा जिले के अंबाजी मंदिर में पूजा-अर्चना करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आबू रोड पहुंचे थे। शहर में एक रैली को संबोधित करने के बाद उन्होंने मंदिर का दौरा किया था। रैली मे अपनी बात रखते हुए मोदी ने देरी से आने के लिए क्षमा मांगते हुए दुबारा आने का वादा किया।