मुश्किल में घिरी पोर्न हब समेत अन्य इंटरनेशनल एडल्ट वेबसाइट, कनाडाई गोपनीयता नियमों का उल्लंघन करने का लगा आरोप

Porn Hub and other international adult websites in trouble, accused of violating Canadian privacy rules
Porn Hub and other international adult websites in trouble, accused of violating Canadian privacy rules
इस खबर को शेयर करें

दुनिया की सबसे बड़ी पोर्न साइटों में से एक पोर्नहब.कॉम समेत एक अन्य एडल्ट वेबसाइट मुश्किल में घिरती नजर आ रही है। हाल ही में एक आधिकारिक निगरानी संस्था ने गुरुवार (29 फरवरी) को घोषणा की कि पोर्न हब और अन्य एडल्ट वेबसाइट के मालिकों ने बिना किसी स्पष्ट जानकारी या सहमति निजी तस्वीरें पोस्ट की है। इस तरह से उन्होंने कनाडाई गोपनीयता नियमों का उल्लंघन किया है।

कनाडा की एक महिला ने पाया कि उसके पूर्व-प्रेमी ने बिना अनुमति के आयलो वेबसाइटों पर उसकी निजी तस्वीरें और एक वीडियो प्रकाशित कर दी है। इस पर महिला ने इसकी शिकायत आयलो होल्डिंग्स को की। इस पर कनाडाई आधिकारिक निगरानी संस्था के आयुक्त फिलिप डुफ्रेस्ने ने आयलो वेबसाइट पर जांच शुरू कर दी।

आयलो होल्डिंग्स के खिलाफ आधिकारिक निगरानी संस्था के आयुक्त फिलिप डुफ्रेस्ने ने महिला की शिकायत पर जांच शुरू कर दी. इसके बाद उन्होंने अपने जांच में पाया कि आयलो किसी भी प्राइवेट तस्वीरें और वीडियो को बिना किसी स्पष्ट जानकारी के साथ पोस्ट कर रहा है. हालांकि, उन्हें बिना किसी अनुमति के फोटो और वीडियो पोस्ट नहीं करनी चाहिए थी।

इस पर फिलिप डुफ्रेस्ने ने कहा कि पॉर्नहब और अन्य आयलो साइटों पर अपर्याप्त गोपनीयता सुरक्षा का उल्लंघन किया गया है। इसकी वजह से काफी विनाशकारी परिणाम सामने आए हैं। उन्होंने दावा किया कि जिन व्यक्तियों ने आयलो से जानकारी हटाने के लिए कहा उन्हें अप्रभावी प्रक्रिया का सामना करना पड़ा।

अमेरिकी सरकार को भी दिया जुर्माना

डुफ्रेसने ने कहा कि उन्होंने आयलो को कनाडाई गोपनीयता नियमों के अनुपालन की गारंटी देने के लिए कई सुझाव दिए थे, लेकिन निगम उनमें से किसी पर भी सहमत नहीं हुआ था। आयलो ने एक ईमेल के जरिए जानकारी दी कि जिस घटना के कारण महिला को शिकायत दर्ज करनी पड़ी, वह 2015 में हुई थी। तब से कंपनी ने साइट से गैरकानूनी सामग्री को हटाने के लिए कई प्रयास कर रही है।

वहीं दिसंबर में आयलो कंपनी ने कथित यौन तस्करी ऑपरेशन से अपने संबंधों की जांच को सुलझाने के लिए अमेरिकी सरकार को 1.8 मिलियन डॉलर का भुगतान करने पर सहमत हुई।