प्रदीप मिश्रा के विवादित प्रवचन पर भड़के प्रेमानंद महाराज, कहा- माफी मांग लो नहीं तो सर्वनाश पक्का

इस खबर को शेयर करें

मथुरा: मध्य प्रदेश के प्रसिद्ध कथावाचक प्रदीप मिश्रा का विरोध थमता नहीं दिख रहा है. पिछले दिनों प्रवचन के दौरान प्रदीप मिश्रा ने राधा रानी पर विवादित टिप्पणी कर दी थी. जिसके बाद साधु संतों की नाराजगी लगातार सामने आ रही है. प्रसिद्ध संत प्रेमानंद महाराज ने प्रदीप मिश्रा के खिलाफ बड़ा बयान देते हुए कहा कि, चार श्लोक क्या पढ़ लिए कथावाचक बन गए. राधा रानी और भगवान कृष्ण का अटूट प्रेम था. धार्मिक नगरी में प्रदीप मिश्रा का प्रवेश वर्जित कर देंगे. प्रदीप मिश्रा की टिप्पणी से आहत मथुरा,ब्रज, वृंदावन के साधु संतों का आक्रोश अलग अलग रूपों में लगातार सामने आ रहे हैं.

कथावाचक प्रदीप मिश्रा की ओर से एमपी के सिहोर जिले में कथा प्रवचन के दौरान किशोरी जी राधा रानी जी पर विवादित टिप्पणी कर दी थी. जिसके बाद से साधु संतों में नाराजगी देखी जा रही है. वृंदावन के प्रसिद्ध संत प्रेमानंद महाराज ने प्रदीप मिश्रा को श्राप देते हुए कहा कि, प्रदीप मिश्रा का सर्वनाश हो जाएगा. और किसी लायक नहीं रहेगा, ना लोक में जाएगा, ना परलोक में, बरसाना जाकर किशोरी जी से दंडवत होकर माफी मांग लो. किशोरी जी बड़ी ही दयालु हैं, और सब के दुखों को हरती हैं. नहीं तो सर्वनाश पक्का है, यह प्रेमानंद की भविष्यवाणी है, परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहना.

प्रदीप मिश्रा पर आक्रोशित प्रेमानंद महाराज यहीं तक नहीं रुके, उन्होंने आगे लोगों से प्रदीप मिश्रा की कथा ना सुनने की अपील करते हुए कहा कि, ऐसे व्यक्ति जो कथा करते हैं, जिनको कथा का ज्ञान नहीं है, उनकी कथा सुनाने लायक नहीं है, नरक की प्राप्ति होगी.

ब्रज के साधु संतों ने की FIR की मांग
ब्रज तीर्थ देवालय संगठन के सैकड़ो संतों ने कथा वाचक प्रदीप मिश्रा के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने को लेकर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से मुलाकात की. जिसमें उन्होंने कहा कि, धार्मिक स्थल मथुरा वृंदावन जनपद के अन्य स्थानों पर प्रदीप मिश्रा का प्रवेश वर्जित कर देंगे. किशोरी जी पर विवादित टिप्पणी सहन नहीं की जाएगी.

प्रदीप मिश्रा की विवादित टिप्पणी से धार्मिक नगरी मथुरा और वृंदावन में साधु संत नाराजगी जाहिर की तो वहीं बृजवासी भी प्रदीप मिश्रा के खिलाफ सड़कों पर उतर आए. गुरुवार को शहर के होली गेट पर श्री कृष्ण जन्मभूमि संघर्ष न्यास समिति के सदस्यों ने प्रदीप मिश्रा के खिलाफ नारेबाजी करते हुए पुतला दहन किया . जिला प्रशासन से कथा वाचक के खिलाफ संगीन धारा में मुकदमा दर्ज करने की मांग की है. साथ ही समिति के अध्यक्ष दिनेश शर्मा ने कहा कि, जो व्यक्ति राधा रानी के नाम से खा रहा है. उन्हीं के बारे में अप शब्द हम लोग सहन नहीं करेंगे. हम केंद्र सरकार से मांग करते हैं कि, ऐसे कथा वाचकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए. और उनकी संपत्ति की जांच की जाए. सनातन धर्म के देवी देवताओं के खिलाफ अभद्र टिप्पणी हिंदू सनातन धर्म कभी बर्दाश्त नहीं करेगा.