राजस्थान : गांवों में बनेंगे पार्क, मिलेगी ओपन जिम की सुविधा, जानें कैसा है विकास का यह ब्लू प्रिंट

राजस्थान में गांवों के विकास (Rural development ) का नया ब्लूप्रिंट तैयार किया गया है. अब गांवों में भी शहरों की तर्ज पर हाईटेक पार्क (Hitech Park) बनाने की तैयारी की जा रही है.

Rajasthan: Parks will be built in villages, open gym facilities will be available, know how this blue print of development is
Rajasthan: Parks will be built in villages, open gym facilities will be available, know how this blue print of development is
इस खबर को शेयर करें

जयपुर. राजस्थान में गांवों के विकास (Rural development ) का नया ब्लूप्रिंट तैयार किया गया है. अब गांवों में भी शहरों की तर्ज पर हाईटेक पार्क (Hitech Park) बनाने की तैयारी की जा रही है. सभी आधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित इन पार्कों के साथ साथ ग्रामीण इलाके की सड़कों और अन्य विकास पर नए सिरे से फोकस किया जायेगा. पंचायतीराज ग्रामीण विकास विभाग की ओर से गांवों में पार्क बनाने का जो खाका तैयार किया गया है उसमें इन पार्कों में युवाओं की कसरत के लिए लिए ओपन जिम बनाये जायेंगे.

राजस्थान के गांवों का अब शहरों की तर्ज पर विकास के नए आयाम का ब्लू प्रिंट तैयार किया गया है. ग्रामीण आबादी के लिए ऐसे पार्क बनाने की कवायद शुरू हो रही है जो युवाओं को सैन्य भर्ती और पुलिस सुरक्षा बलों में जाने के लिए सहयोग देंगे. इसके साथ ही ये पार्क ग्रामीण अंचल में हरियाली बढ़ायेंगे. इन पार्कों में बुजुर्गों को टहलने के लिये सुरक्षित स्थान मिल सकेगा.

पंचायतीराज ग्रामीण विकास विभाग मंत्री रमेशचंद मीणा के अनुसार पार्क के चारों तरफ हरे-भरे रनिंग ट्रैक का निर्माण किया जाएगा. कम से कम दस बीघा जमीन में तैयार होने वाले इन पार्कों में सरकार द्वारा शौचालय बनाये जाएंगे. वहीं युवाओं और बुजुर्गों के लिए इन पार्कों में लाइब्रेरी की व्यवस्था भी की जायेगी. पार्क हरा-भरा रहे इसलिये वहां फुलवारियों में रंग-बिरंगे फूल लगाए जाएंगे. ग्रीनरी को सुरक्षित रखने के लिए वहां पर ट्यूबवैल भी स्थापित किए जाएंगे.

सड़कों के आसपास ड्रेनेज सिस्टम भी बनाया जायेगा

मंत्री रमेशचंद मीणा के मुताबिक ग्रामीण इलाकों में बनने वाले इन पार्कों पर आबादी को सुगमता से पहुंचने के लिए भी सरकार नई व्यवस्था करेगी. ग्रामीण पार्क तक आसानी से पहुंच सके इसके लिये करीब एक किलोमीटर की दूरी तक सड़क का निर्माण किया जाएगा. ग्राम विकास योजना के बजट से तैयार होने वाली इन सड़कों के आस-पास ड्रेनेज सिस्टम भी विकसित किए जाएंगे.

चुनाव से पहले योजना का लाभ मिल पायेगा या नहीं?

बहरहाल सरकार ने ग्रामीण विकास का ब्लू प्रिंट तो तैयार कर लिया है, लेकिन चुनाव से पहले के इसका लाभ प्रदेश की जनता को मिल पायेगा या नहीं यह देखने वाली बात होगी. फिलहाल सरकार इस योजना को अमली जामा पहनाने के प्रयासों में जुटी है.