राजस्थान में 3 दिन में 3 गैंगवारः गोली लगने के बाद भी कार चलाता रहा हिस्ट्रीशीटर जयपाल, स्टीयरिंग पर ही मौत

राजस्थान में गैंगस्टर बेखौफ हैं। एक दूसरे पर हुई वारदातों का बदला लेने के लिए 3 दिन में तीन गैंगवार हुई हैं। इन तीन गैंगवार में तीन गैंगस्टर्स की हत्या कर दी गई।

3 gang wars in 3 days in Rajasthan: History sheeter Jaipal continued to drive car even after being shot, died on steering
3 gang wars in 3 days in Rajasthan: History sheeter Jaipal continued to drive car even after being shot, died on steering
इस खबर को शेयर करें

जयपुर. राजस्थान में गैंगस्टर बेखौफ हैं। एक दूसरे पर हुई वारदातों का बदला लेने के लिए 3 दिन में तीन गैंगवार हुई हैं। इन तीन गैंगवार में तीन गैंगस्टर्स की हत्या कर दी गई। 2 दिन पहले जयपुर ग्रामीण में दौसा के जीतू बरोदा और नागौर के साहिल बटेश्वर की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी। अब नागौर जिले से इसी तरीके का मामला सामने आया है। शनिवार को नमक कारोबारी जयपाल पुनिया की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी गई। जयपाल पुनिया हिस्ट्रीशीटर है और उसके खिलाफ नागौर समेत आसपास में 11 केस दर्ज हैं।

चारों तरफ से घेरकर बरसाई गोलियां…

नावां का रहने वाला जयपाल पुनिया अपनी कार से जा रहा था। इस दौरान बोलेरो में आए हमलावरों ने चारों ओर से घेरकर कार के शीशे तोड़ दिए और उसके बाद जयपाल पुनिया की हत्या कर दी। गोली लगने के बाद भी जयपाल कार चलाने की कोशिश करता रहा, गियर बदलने का प्रयास करता रहा, लेकिन बाद में उसने स्टेरिंग पर ही सिर पटक दिया।

पुलिस ने बताया घटनाक्रम का पूरा डिटेल…

पुलिस ने बताया कि नावा थाने का हिस्ट्रीशीटर जयपाल पुनिया भाजपा का भी स्थानीय नेता था। घटना नागौर जिले के नावा कस्बे की है। स्थानीय लोगों से मिली सूचना के अनुसार पुलिस ने बताया कि नावा के बालिका स्कूल चौराहे के पास तहसील रोड पर एक बोलेरो तेजी से निकली। वह जयपाल पुनिया की काली कार का पीछा कर रही थी। कुछ देर में बोलेरो ने जयपाल की गाड़ी को ओवरटेक किया और बोलेरो में से 4 से 5 लोग उतरे। उन्होंने पहले जयपाल की कार के शीशे तोड़ दिए और उसके बाद जयपाल पर फायरिंग कर दी। कुछ ही देर में जयपाल की मौत हो गई। इसकी सूचना जब नागौर एसपी को मिली तो वे अपनी टीम के साथ मौके के लिए रवाना हुए। कुछ देर में मौके पर पहुंचे और उसके बाद जांच पड़ताल शुरू की ।

3 दिन पहले ही अवैध बोरिंग को लेकर हुआ था झगड़ा

पुलिस ने बताया कि गुड़ासाइट गांव के सरपंच ने जयपाल पुनिया के खिलाफ अवैध बोरिंग करने और जाति जाति सूचक शब्दों का इस्तेमाल करने का मामला नावा थाने में दर्ज करवाया था। बुधवार को ही मुकदमा दर्ज किया गया था। उसका आरोप था कि ग्राम पंचायत की जमीन पर अवैध बोरिंग करने को लेकर जयपाल से विवाद हुआ था विवाद के बाद जयपाल ने मारपीट की। उसके बाद देख लेने की धमकी दी।

नागौर में हुए हत्याकांड के बाद सांसद हनुमान बेनीवाल ने हत्या को लेकर सोशल मीडिया पर स्थानीय विधायक और पुलिस पर आरोप लगाए हैं। उनका कहना है कि दिनदहाड़े एक कारोबारी की हत्या कर दी जाती है और पुलिस शांत बैठी हुई है। उन्होंने राजस्थान और नागौर के कानून व्यवस्था को नकारा है।