अभी अभी: राजस्थान में कुख्यात गैंगस्टर जीतू की बीच सड़क गोलियों से भूनकर हत्या

गैंगस्टर जीतू बोरोदा का बुधवार देर रात बदमाशों ने अपहरण कर निर्दयतापूर्वक उसकी हत्या (Gangster Jitu Boroda murdered) कर दी.

Rajasthan: Gangster Jeetu murdered in a gang war, shot many bullets, body was thrown on the road, this month was married
Rajasthan: Gangster Jeetu murdered in a gang war, shot many bullets, body was thrown on the road, this month was married
इस खबर को शेयर करें

दौसा. गैंगस्टर जीतू बोरोदा का बुधवार देर रात बदमाशों ने अपहरण कर निर्दयतापूर्वक उसकी हत्या (Gangster Jitu Boroda murdered) कर दी. बाद में शव को जयपुर जिले की सीमा में फेंक दिया. हत्या के शिकार हुये गैंगस्टर के खिलाफ विभिन्न थानों में आठ मामले दर्ज हैं. बदमाशों ने जीतू बोरोदा को कई गोलियां मारी जाना बताया जा रहा है. जीतू की इसी महीने शादी (Marriage) होने वाली थी. राजस्थान के दौसा जिले में हुई गैंगवार की इस बड़ी वारदात के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया. जीतू के शव को जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया है.

दौसा पुलिस अधीक्षक राजकुमार गुप्ता ने बताया कि कार सवार बदमाशों ने बुधवार रात पहले गैंगस्टर जीतू बोरोदा का बीघावास मोड़ के पास से अपहरण किया. उसके बाद जीतू से क्रूरतापूर्वक मारपीट कर उसके पैरों में एक के बाद एक कई गोलियां मारी गई जिससे उसकी मौत हो गई. बदमाश बाद में जीतू के शव को जयपुर जिले के बस्सी इलाके में बांसखो के समीप सड़क पर फेंककर फरार हो गये.

बदमाशों ने पहले गाड़ी पर हमला किया
पुलिस के मुताबिक प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि गैंगस्टर जीतू बोरोदा बुधवार रात को दौसा शहर में खाना खाने के बाद लालसोट की तरफ जा रहा था. तभी बीघावास मोड़ के पास कुछ अन्य बदमाशों के साथ जीतू बोरोदा की कहासुनी हो गई. इसके बाद जीतू बोरोदा गेटोलाव रोड की तरफ आ गया. वहां वापस आये बदमाशों ने जीतू बोरोदा की गाड़ी पर हमला कर दिया. इस घटनाक्रम में जीतू लहूलुहान हो गया.

सोशल मीडिया में वायरल किये वारदात के फोटो और वीडियो
इस बीच आरोपियों ने पूरे घटनाक्रम का एक वीडियो और कुछ फोटोग्राफ सोशल मीडिया पर वायरल कर दिये. उसके बाद जैसे ही पुलिस को इसकी सूचना मिली तो वह सक्रिय हुई और जीतू की तलाश शुरू की गई. सर्च अभियान में पुलिस को जीतू की क्षतिग्रस्त कार गेटोलाव रोड़ के समीप मिली. जबकि जीतू का शव जयपुर जिले के बांसखो के समीप पड़ा हुआ मिला. उसके बाद पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और घटनास्थल का मौका मुआयना किया. शव को वहां से उठवाकर जयपुर के एसएमएस अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया.

हत्या के पीछे प्रोपर्टी का विवाद आ रहा है सामने
पुलिस के मुताबकि जीतू बोरोदा के खिलाफ 8 मुकदमे दर्ज हैं. जीतू और उसके विरोधियों के बीच प्रोपर्टी को लेकर विवाद चल रहा था. संभवतया इसी के चलते यह हत्याकांड हुआ है. करीब 7 से 8 बदमाशों ने जीतू को बुरी तरह से पीटा और पैरों में आठ गोलियां मारी. पुलिस ने सभी बदमाशों के बारे में जानकारी जुटा ली है. बताया जा रहा है कि विरोधी गैंग के लोग भी पेशेवर बदमाश हैं. उनके खिलाफ भी कई मुकदमे दर्ज हैं. पुलिस अधीक्षक समेत अन्य आला अधिकारी दौसा कोतवाली में मौजूद हैं. आरोपियों की धरपकड़ के लिये अलग-अलग टीमें भेजी गई हैं.