राजस्थान के इन जिलों में अगले 24 घंटे भारी बारिश की चेतावनी, यहां देखें

Share this news

सीकर. राजस्थान के सीकर, चूरू व झुंझुनूं सहित प्रदेश के छह जिलों में गुरुवार को भारी बरसात की संभावना है। मौसम विज्ञान केंद्र ने इस संबंध में अलर्ट जारी किया है। केंद्र के अनुसार गुरुवार को पूर्वी राजस्थान के सीकर, झुंझुनू, अलवर व अजमेर जिलों तथा पश्चिमी राजस्थान के चूरू व नागौर जिलों में बिजली चमकने व बादलों की गरज के साथ कहीं कहीं भारी भरसात हो सकती है। इसके अलावा प्रदेश के भीलवाड़ा, टोंक, जयपुर, राजसमंद, सिरोही तथा पश्चिमी राजस्थान के पाली, जालौर व जोधपुर जिलों में कहीं-कहीं में मेघ गर्जन और आकाशीय बिजली चमक सकती है। इधर, स्काईमेट वेदर रिपोर्ट ने भी राजस्थान में हल्की से भारी बरसात होने की संभावना जताई है।

नया दबाव क्षेत्र बढ़ाएगा बरसात
मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर के अनुसार वर्तमान में झारखंड व आसपास के क्षेत्र के ऊपर एक नया कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। जबकि मानसून ट्रफ रेखा भी राज्य से होकर गुजर रही है। इससे पूर्वी राजस्थान के अधिकतर भागों में आगामी एक सप्ताह के दौरान मानसून की गतिविधियां जारी रहने की संभावना है। पश्चिमी राजस्थान के जोधपुर व बीकानेर संभाग के अधिकतर भागों में गुरुवार को मेघगर्जन के साथ बारिश की गतिविधियां जारी रह सकती है। इसके बाद 24 सितंबर से पश्चिमी राजस्थान में बारिश की गतिविधियों में कमी होगी।

देश में आज यहां होगी बरसात
स्काईमेट वेदर रिपोर्ट के अनुसार गुरुवार को राजस्थान और गुजरात के कुछ हिस्सों, गंगीय पश्चिम बंगाल, झारखंड, ओडिशा और छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों, तेलंगाना के कुछ हिस्सों, विदर्भ, मराठवाड़ा, कोंकण और गोवा, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों, हरियाणा, पंजाब, उत्तराखंड में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। जबकि एक-दो स्थानों पर भारी बारिश होने के भी आसार हैं। इसके अलावा हिमाचल प्रदेश, दिल्ली, राजस्थान के शेष हिस्सों, सौराष्ट्र और कच्छ, मध्य प्रदेश, बिहार के कुछ हिस्सों, पूर्वोत्तर भारत के कुछ हिस्सों, तटीय आंध्र प्रदेश, तटीय तमिलनाडु और मध्य महाराष्ट्र में हल्की से मध्यम तथा आंतरिक तमिलनाडु, आंतरिक कर्नाटक, केरल और लक्षद्वीप में हल्की बारिश के आसार हैं।