कच्चा आम vs पक्का आम, आखिर आपकी हेल्थ के लिए जानें कौनसा सबसे ज्यादा बेहतर?

Raw mango vs ripe mango, know which one is best for your health?
Raw mango vs ripe mango, know which one is best for your health?
इस खबर को शेयर करें

आम का मौसम आ चुका है और जैसे-जैसे गर्मी का पारा चढ़ता है इसे खाने का मजा भी दोगुना होता जाता है। इस शानदार फल में कुछ ऐसा है जो चिलचिलाती गर्मी में आराम देता है। अपने अनूठे स्वाद के अलावा आम शानदार पोषक तत्वों से भरा होता है जो पेट के स्वास्थ्य, एनर्जी के स्तर और इम्युनिटी को बढ़ावा देने का काम करता है। आम का सेवन कई तरीकों से किया जा सकता है। कुछ लोगों को पके, रसीले और मीठे आम पसंद आते हैं, जबकि कई लोग कच्चे आम के स्वाद के शौकीन होते हैं जो खट्टा और स्वादिष्ट होता है। चाहे आप आम का अचार/चटनी खाने वाले हों या आम का शेक या आमरस पीने वाले हों, एक्सपर्ट का कहना है कि कच्चे और पके आम दोनों के अपने-अपने फायदे हैं। यहां जानें पके और कच्चे आम दोनों के फायदे।

कच्चे आम के फायदे

कच्चे आम में विटामिन सी की मात्रा ज्यादा होती है और पके आम की तुलना में यह अधिक एसिडिट होता है। इससे खाने वाले की पाचन शक्ति बढ़ती है। कच्चे आम विशेष रूप से फाइबर से भरपूर होते हैं जो पाचन स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है, नियमित मल त्याग को बढ़ावा देते हैं और स्वस्थ आंत माइक्रोबायोम का सपोर्ट करते हैं। इनमें विटामिन सी हाई होता है, जो एक आवश्यक पोषक तत्व इम्यूनिटी बढ़ाने वाले गुणों के लिए। कच्चे आम का एसिडिक नेचर पाचन संबंधी लाभ देता है और भोजन को टूटने में हेल्प करता है। इतना ही नहीं ये क्रॉनिक बीमारियों जैसे कैंसर और हार्ट बीमारियों से बचाने में मदद करता है।

पका हुआ आम खाने के फायदे

पके आम बीटा-कैरोटीन जैसे कुछ एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं, जो उन्हें उनका विशिष्ट नारंगी-पीला रंग देता है। एंटीऑक्सिडेंट कोशिकाओं को ऑक्सीडेटिव क्षति से बचाने में मदद करते हैं और पुरानी बीमारियों के खतरे को कम करते हैं। साथ ही, बीटा-कैरोटीन सहित उनकी कैरोटीनॉयड सामग्री काफी बढ़ जाती है। ये कैरोटीनॉयड शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट हैं जो कई प्रकार के रोगों से बचाने में मदद करते हैं। पके आम में विटामिन ए की मात्रा अधिक होती है, जो हेल्दी आइ साइट, इम्यूनिटी कार्य और स्किन हेल्थ को बनाए रखने के लिए आवश्यक है। हालांकि, यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि पके आम में नैचुरल शुगर अधिक होती है, जो उन्हें मीठा और अधिक स्वादिष्ट बनाता है।

कच्चा और पका आम में कौनसा बेहतर है?

इम्युनिटी सपोर्ट के लिए: विटामिन सी की मात्रा अधिक होने के कारण कच्चे आम को प्राथमिकता दी जा सकती है।

एंटीऑक्सीडेंट सेवन के लिए: बीटा-कैरोटीन जैसे एंटीऑक्सीडेंट के बढ़े हुए स्तर के कारण पके आम अधिक फायदेमंद हो सकते हैं।

पाचन स्वास्थ्य के लिए: कच्चे और पके आम दोनों ही फाइबर प्रदान करते हैं, लेकिन कच्चे आम इस संबंध में थोड़ा अधिक फाइबर प्रदान कर सकते हैं।

स्वाद के लिए: पके आम कई लोगों के लिए अधिक मीठे और आनंददायक होते हैं, जो उन्हें स्नैक्स और डेसर्ट के लिए पसंदीदा ऑप्शन बनाते हैं।

देखा जाए तो कच्चे और पके दोनों के अपने-अपने पोषण संबंधी फायदे हैं। अपनी डाइट में कच्चे और पके आम दोनों को शामिल करके आप पोषक तत्व और हेल्थ लाभ ले सकते हैं।