मुजफ्फरनगर में पालिका अध्यक्षों का आरक्षण जारी, यहां देंखे सभी सीटों का आरक्षण

नगर पालिकाओं में आरक्षण की सूची जारी कर दी गई है। जिसके अनुसार मुजफ्फरनगर पालिका सीट को अनारक्षित की श्रेणी में रखा गया है। सीट अनारक्षित होने से किसी भी जाति वर्ग का पुरुष और महिला चुनाव लड़ने के लिए स्वतंत्र होगा।

Reservation of municipality presidents continues in Muzaffarnagar, see reservation of all seats here
Reservation of municipality presidents continues in Muzaffarnagar, see reservation of all seats here
इस खबर को शेयर करें

मुजफ्फरनगर। नगर पालिकाओं में आरक्षण की सूची जारी कर दी गई है। जिसके अनुसार मुजफ्फरनगर पालिका सीट को अनारक्षित की श्रेणी में रखा गया है। सीट अनारक्षित होने से किसी भी जाति वर्ग का पुरुष और महिला चुनाव लड़ने के लिए स्वतंत्र होगा। सीट अनारक्षित घोषित होते ही चुनाव की तैयारियों में जुटे विभिन्न राजनीतिक दल के कई खास चेहरों पर खुशी की लहर दौड़ गई। नगर पालिका खतौली को भी अनराक्षित घोषित किया गया है।

नेताओं की पारिवारिक महिलाओं ने लड़ा था गत चुनाव

गत निकाय चुनाव से पहले मुजफ्फरनगर पालिका परिषद सीट महिला के लिए आरक्षित कर दी गई थी। जिससे कई राजनीतिक दल के पारंपरिक प्रत्याशी चुनाव लड़ने से वंचित रह गए थे। हांलाकि एक्टिव पालिटिक्स करने वाले सपा, बसपा और भाजपा नेताओं ने अपने ही परिवार की सदस्य महिलाओं को चुनाव मैदान में उतार दिया था। गत चुनाव में भाजपा नेता अरविंद राज शर्मा की पत्नी सुधाराज शर्मा बीजेपी, बसपा नेता जियाउर्रहमान की पत्नी मुदस्सिर रहमान बसपा और कांग्रेस से नगर पालिका चेयरमैन रहे पंकज अग्रवाल की चाची अंजु अग्रवाल ने कांग्रेस से ही चुनाव लड़ा था।

भाजपा, बसपा और गठबंधन नेताओं के चेहरों पर खुशी

गत चुनाव में मुजफ्फरनगर पालिका सीट महिला के लिए आरक्षित घोषित किये जाने से कई एक्टिव पालिटिकल नेताओं के चेहरों से रौनक गायब हो गई थी। लेकिन सोमवार सायं जैसे ही मुजफ्फरनगर पालिका सीट अनारक्षित घोषत हुई लगभग सभी राजनीतिक दलों के कई नेताओं के चेहरों पर खुशी की लहर दौड़ गई। भाजपा की ही बात करें तो गत चुनाव में अपनी पत्नी सुधाराज शर्मा को मैदान में उतारने वाले अरविंद राज शर्मा, पूर्व में नगर पालिका चुनाव लड़ चुके और संघ के बड़े नेता संजय अग्रवाल, विधानसभा चुनाव में सपा छोड़कर भाजपा में शामिल हुए गौरव स्वरूप और पंजाबी समाज में काफी सक्रिय राजनीति करने वाले जगदीश बाठला और इसी समाज से आने वाले शहर के बड़े उद्योगपति कुशपुरी अब टिकट की जद्दोजहद में जुट गए हैं। वहीं सपा-रालोद गठबंधन से राकेश शर्मा, बसपा से जियाउर्रहमान और कांग्रेस से शादाब खान जैसे लोग अब टिकट दांव लगाएंगे। कांग्रेस के टिकट पर मुजफ्फरनगर पालिका का गत चुनाव जीतने वाली अंजु अग्रवाल पाला बदल कर भाजपा में चली गई थी। इस बार वह फिर से भाजपा से ही चुनाव लड़ने का प्रयास करेंगी।

ये रही जिले में नगर पंचायतों की आरक्षण की स्थिति

दोनों नगर पालिकाओं के अलावा जिले की नगर पंचायतों में भी आरक्षण की घोषणा कर दी गई है। अधिसूचना के अनुसार जिले की चरथावल और सिसौली नगर पंचायत महिला जबकि जानसठ, मीरापुर, पुरकाजी और बुढाना तथा शाहपुर नगर पंचायत को अनारक्षित घोषित किया गया है। वहीं नगर पंचायत भोकरहेड़ी को अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित किया गया है।