अभी अभीः राम रहीम को लेकर आई बडी खबर, हनीप्रीत के साथ यहां कर रहा…नहीं जाने देते किसी को करीब

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम के दर्शन के लिए बरनावा आश्रम में अनुयायियों को प्रवेश मिलने लगा है। वहां गेट नंबर एक से प्रवेश दिया जा रहा है। राम रहीम के दूर से दर्शन कराए जा रहे हैं। दर्शन करने के बाद उनको उसी गेट से वापस भेजा जा रहा है। इस बारे में पता चलने पर काफी संख्या में अनुयायी पहुंचने लगे हैं।

Right now: Big news about Ram Rahim, doing here with Honeypreet...don't let anyone close
Right now: Big news about Ram Rahim, doing here with Honeypreet...don't let anyone close
इस खबर को शेयर करें

बागपत। डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम के दर्शन के लिए बरनावा आश्रम में अनुयायियों को प्रवेश मिलने लगा है। वहां गेट नंबर एक से प्रवेश दिया जा रहा है। राम रहीम के दूर से दर्शन कराए जा रहे हैं। दर्शन करने के बाद उनको उसी गेट से वापस भेजा जा रहा है। इस बारे में पता चलने पर काफी संख्या में अनुयायी पहुंचने लगे हैं।

डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम रोहतक जिले के सुनारिया जेल से एक माह की पैरोल मिलने के बाद बरनावा के डेरा सच्चा सौदा आश्रम में रह रहे हैं। राम रहीम के बरनावा आश्रम में पहुंचने का पता चलने के बाद अनुयायी लगातार वहां पहुंच रहे थे, लेकिन उनको आश्रम में अंदर प्रवेश नहीं दिया जा रहा था। चार दिन बाद अनुयायियों को अंदर प्रवेश दिया जाने लगा है। इसका पता चलने पर वहां अब ज्यादा संख्या में अनुयायी पहुंच रहे हैं। सुरक्षा की दृष्टि से आश्रम के सभी गेटों पर पुलिस बल के साथ ही सेवादार तैनात हैं।

परिवार के साथ समय बिता रहा डेरा प्रमुख, हनीप्रीत भी साथ
डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम के बरनावा आश्रम में आने की जानकारी मिलने पर काफी संख्या में अनुयायी यहां पहुंच रहे हैं। रविवार को आश्रम के बाहर पार्किंग भी फुल हो गई। अनुयायी डेरा प्रमुख के दर्शन के लिए घंटों तक इधर-उधर खड़े रहे।

डेरा प्रमुख करीब एक माह परिवार के साथ यहां रहेगा। बताया जा रहा है कि यहां पहुंचे परिवार के सदस्यों में मां, भाई समेत अन्य सदस्यों के साथ मुंहबोली बेटी हनीप्रीत का परिवार भी शामिल है। आश्रम में अभी केवल 45 सदस्यों की एंट्री होगी, जिनकी सूची सुरक्षा कर्मियों को सौंपी गई हैं। उस सूची में सिरसा, हिसार, दिल्ली के ऐसे भी लोग शामिल है जो राम रहीम के काफी करीबी हैं और डेरे की व्यवस्था संभालते हैं।

इनके अलावा आश्रम में अंदर किसी को जाने नहीं दिया जा रहा है। राम रहीम अपना पैरोल का समय परिवार वालों के साथ बिताना चाहता है। इसलिए ही सभी परिवार वालों को बुलाया गया है और वह अभी किसी अनुयायी से नहीं मिल रहा है।आश्रम के सभी गेटों पर सुरक्षा कड़ी रखी गई हैं। डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम और मुंहबोली बेटी हनीप्रीत के परिवार के सदस्य भी यहां पहुंच गए हैं।

फादर्स डे पर डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को उसके अनुयायियों ने शुभकामनाएं दी लेकिन उसके बच्चों ने कोई संदेश नहीं दिया। वहीं उसकी मुंहबोली बेटी हनीप्रीत ने ट्वीट कर कहा कि, ‘जब मैं गिर गई तो आपने मुझे न केवल उठाया बल्कि आपने मुझे आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया।’

हनीप्रीत ने साथ ही लिखा कि अगर दुनिया में कुछ भी सबसे अच्छा है, तो आप गुरु पापा। कोई भी शब्द मेरे कानों को इतना नहीं भाता जितना कि तुम्हारा नाम भाता है। साथ ही हनीप्रीत ने राम रहीम के साथ एक गाने की एलबम भी शेयर की है।