यूपी में INDIA गठबंधन को झटका, कांग्रेस और सपा के रास्ते हुए अलग, इस वजह से बिगड़ी बात

इस खबर को शेयर करें

UP News: उत्तर प्रदेश में तमाम कोशिशों के बाद भी अब इंडिया गठबंधन टूट चुका है. कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के बीच सीटों पर बात नहीं बन पाई है. जिसके बाद अब सपा गठबंधन से अलग होकर चुनाव लड़ेगी. सूत्रों की माने तो अब दोनों ही पार्टी राज्य की सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगी.

बीते लंबे वक्त से सपा और कांग्रेस के बीच सीटों को लेकर बातचीत चल रही थी. लेकिन अंतिम में दोनों ही पार्टियों के बीच बात नहीं बन पाई है. सूत्रों की माने तो सपा के ओर से कांग्रेस को कुल 17 सीटों का ऑफर दिया गया था. लेकिन कांग्रेस 20 से कम सीटों पर किसी भी हाल में बात करने के लिए तैयारी नहीं थी. इसके लिए कांग्रेस के ओर सपा को एक लिस्ट भी दी गई थी.

सूत्रों के अनुसार सपा की ओर से दिए गए ऑफर में अमेठी, रायबरेली, वाराणसी, अमरोहा, बागपत, सहारनपुर, गौतम बुद्ध नगर, गाजियाबाद, बुलंदशहर, फतेहपुर सीकरी, हाथरस, झांसी, बाराबंकी, कानपुर, सीतापुर, कैसरगंज और महाराजगंज सीट शामिल थी. लेकिन कुछ ऐसी सीटें भी थी जिसको लेकर दोनों पार्टियों के बीच मतभेद जारी था.

कई सीटों पर थी आपत्ति
दरअसल, बीते दिन जब सपा ने अपने उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी की थी, उसी वक्त पार्टी के ओर कुछ ऐसी सीटों पर उम्मीदवारों का एलान कर दिया गया था, जिसपर कांग्रेस को आपत्ति थी. पार्टी के ओर से कुछ नेताओं द्वारा दिए गए बयान में इसके संकेत भी मिले थे. बीते दिनों के दौरान कई बार कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद अजय राय ने तल्ख संदेश दिया था.

उन्होंने स्पष्ट कहा था कि हम हर लोकसभा सीट पर तैयारी कर रहे हैं. इसके बाद सपा और कांग्रेस घेमे से जमकर बयानबाजी हुई थी. बात इतनी बढ़ी कि सूत्रों के अनुसार कांग्रेस हाईकमान को हस्तक्षेप करना पड़ा था. हालांकि अभी तक दोनों ही राजनीतिक दलों की ओर से कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है.