चीन के राजदूत के खिलाफ बोलना पड़ा महंगा, नेपाल के पूर्व मंत्री पर हुआ जानलेवा हमला

Speaking against China's ambassador proved costly, Nepal's former minister fatally attacked
Speaking against China's ambassador proved costly, Nepal's former minister fatally attacked
इस खबर को शेयर करें

काठमांडू. सत्तारूढ़ नेपाली कांग्रेस के सह महासचिव एवं पूर्व मंत्री महेन्द्र यादव पर बुधवार को जानलेवा हमला किया गया है. यादव की गर्दन पर धारदार खुकुरी से प्रहार किया गया. खून से लथपथ यादव को तत्काल ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया है, जहां उनकी हालत नाजुक बताई जा रही है. काठमांडू के रिपोर्टर्स क्लब में पत्रकारों के साथ वार्ता के बाद बाहर निकलते ही उन पर जानलेवा हमला हुआ.

काठमांडू पुलिस के एसपी कुमुद ढुंगेल ने बताया कि करीब 45 वर्षीय श्याम सापकोटा ने पूर्व मंत्री महेन्द्र यादव पर खुकुरी से प्रहार किया है. हमला क्यों किया गया? इसका पता नहीं चल पाया है. हमलावर सापकोटा को पुलिस ने तुरंत ही काबू में कर लिया. गर्दन पर गहरे घाव के कारण महेन्द्र यादव को ट्रॉमा सेंटर के आईसीयू में रखा गया है, जहां उनका इलाज चल रहा है. इलाज तक रहे डॉक्टरों ने बताया कि खून काफी बहने की वजह से महेन्द्र यादव की हालत गम्भीर बनी हुई है.

महेन्द्र यादव रिपोर्टर्स क्लब में नेपाल में चीन के राजदूत के द्वारा दिए गए बयान का विरोध कर रहे थे. उन्होंने चीनी राजदूत के बयान को कूटनीतिक मर्यादा का उल्लंघन बताते हुए उनसे स्पष्टीकरण लेने की मांग की थी. चीन के राजदूत को अपने हद में रहने और नेपाल को कूटनीतिक ज्ञान नहीं देने की नसीहत भी दी थी.

हमलावर पूरे समय पत्रकार के रूप में रिपोर्टर्स क्लब में ही मौजूद था. जैसे ही महेन्द्र यादव अपनी बात कह कर बाहर निकलने लगे वैसे ही हमलावर ने खुकुरी से उनके गर्दन पर वार कर दिया.