केंद्रीय मंत्री गडकरी की वो घोषणा, ज‍िसे सुनकर खुशी से झूमने लगे कार चलाने वाले; कब होगी पूरी?

That announcement of Union Minister Gadkari, on hearing which car drivers started dancing with joy; when will it be fulfilled?
That announcement of Union Minister Gadkari, on hearing which car drivers started dancing with joy; when will it be fulfilled?
इस खबर को शेयर करें

Transport and Highways Ministry: अपने बेबाक बोल और काम के ल‍िए पहचान बनाने वाले केंद्रीय मंत्री न‍ितिन गडकरी की तरफ से जनता को कई सौगात दी गई हैं. उनके मंत्रालय की तरफ से देशभर में ब‍िछाए गए सड़कों के जाल से कहीं पर आना-जाना काफी आसान हो गया है. मोदी सरकार के तीसरे कार्यकाल में नितिन गडकरी को भी तीसरी बार केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय की ज‍िम्‍मेदारी म‍िली है. पिछले 10 साल के दौरान गडकरी ने देश में 54,858 किलोमीटर से ज्‍यादा लंबे राष्ट्रीय राजमार्गों का न‍िर्माण कराया है. उनके नेतृत्‍व में 1,386 किमीटर लंबे दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे का निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है.

इलेक्‍ट्र‍िक कारों की कीमत कम हो जाएगी

अपने प‍िछले कार्यकाल (2019-2024) के दौरान उन्‍होंने कई मंचों पर इलेक्‍ट्र‍िक व्‍हीकल की कीमत को लेकर बड़ा ऐलान क‍िया था. साल 2022 और 2023 में न‍ित‍िन गडकरी ने कहा था क‍ि प्रौद्योगिकी और हरित ईंधन के तेजी से बढ़ने के बाद इलेक्ट्रिक ऑटोमोबाइल की लागत कम हो जाएगी. इसका फायदा यह होगा क‍ि अगले दो साल में पेट्रोल से चलने वाले वाहनों के बराबर ही इलेक्‍ट्र‍िक कारों की कीमत हो जाएगी. उन्‍होंने इसे देशभर में एक क्रांत‍ि के रूप में देखने के ल‍िए कहा था. पेट्रोल और इलेक्‍ट्र‍िक कारों की कीमत करीब-करीब एक बराबर होने के इस बयान को कार चलाने वालों के बीच काफी पसंद क‍िया गया था.

नए कार्यकाल में इस पर तेजी से काम आगे बढ़ेगा!
गडकरी की तरफ से पहली बार यह बयान मार्च 2022 में द‍िया गया था. उस समय इसे पूरा होने के ल‍िए उन्‍होंने दो साल की समय सीमा रखी थी. सरकार ने इस पर काम तो आगे बढ़ाया है लेक‍िन अभी यह सपना पूरी तरह हकीकत नहीं हुआ है. उम्‍मीद की जा रही है क‍ि सरकार के नए कार्यकाल में इस पर तेजी से काम आगे बढ़ेगा और केंद्रीय मंत्री गडकरी की तरफ से देशवास‍ियों को सौगात दी जाएगी. उनके इलेक्‍ट्र‍िक व्‍हीकल की कीमत पेट्रोल व्‍हीकल के बराबर होने की घोषणा कार और बाइक चलाने वालों के ल‍िए बहुत सुकून देने वाली थी.

उन्‍होंने उस समय बताया था क‍ि लिथियम-आयन बैटरी की कीमत में तेजी से कमी आ रही है. जिंक-आयन, एल्यूमीनियम-आयन, सोडियम-आयन बैटरी को व‍िकस‍ित क‍िया जा रहा है. ज्‍यादा से ज्‍यादा दो साल का समय है जब इलेक्ट्रिक स्कूटर, कार, ऑटो रिक्शा का दाम पेट्रोल से चलने वाले स्कूटर, कार और ऑटो रिक्शा के बराबर हो जाएगा. इसका फायदा यह होगा क‍ि आज यद‍ि आप पेट्रोल पर 100 रुपये खर्च कर रहे हैं तो ईवी को चलाने में खर्च घटकर 10 रुपये रह जाएगा. गडकरी ने देश के सांसदों से हाइड्रोजन टेक्‍न‍िक अपनाने का आग्रह भी क‍िया था.