प्यार में पागल हुई बेटी, पिता का काटा गला, फिर हथौड़े से…

इस खबर को शेयर करें

कन्नौज। जिले की छिबरामऊ कोतवाली के करमुल्ला गांव में दिल दहला देने की वारदात सामने आई। स्वजन को खाने में नशीला पदार्थ मिलाकर किशोरी ने पिता, मां और दो भाई को बेहोश कर दिया। इसके बाद प्रेमी के साथ मिलकर ग्राम विकास अधिकारी पिता की गला रेतकर हत्या कर दी। मच्छरदानी के अंदर लेटे बड़े भाई पर जब किशोरी ने हथौड़े से प्रहार किया, तो वह जाग गया और शोर मचाया। इससे पहुंचे पड़ोसियों ने हत्यारोपित किशोरी और उसके प्रेमी को दबोच लिया। पुलिस ने अब छानबीन शुरू की है।

छिबरामऊ कोतवाली के घिसुआपुर गांव निवासी 50 वर्षीय अजय पाल राजपूत पुत्र मुंशीलाल सौरिख ब्लाक में ग्राम विकास अधिकारी (सचिव) के पद पर तैनात हैं। मौजूदा समय गाजियाबाद ग्रीनफील्ड हाईवे किनारे करमुल्लापुर में मकान बनाकर वह पत्नी मोनी देवी, 18 वर्षीय बेटे सिद्धार्थ, 17 वर्षीय बेटी और 14 वर्षीय अमन के साथ रहते हैं। कक्षा 12 में पढ़ने वाली इकलौती बेटी का गांव में रहने वाले हिमांशु यादव से प्रेम-प्रसंग चलता था।

कुछ दिन पूर्व स्वजन को दोनों के प्रेम-प्रसंग की जानकारी हुई थी। विरोध करने पर सोमवार की शाम खाना बनाने के बाद हिमांशु के कहने पर किशोरी ने उसमें जहर मिला दिया। इससे खाना खाने के बाद परिवार के सभी लोग जब बेहोश हो गए, तो किशोरी ने फोन कर हिमांशु को बुला लिया। इसके बाद एक कमरे में सो रहे पिता अजय पाल की आरी के पत्ते से गला रेतकर हत्या कर दोनों ने हत्या कर दी। इसके बाद दोनों ने हथौड़े से मच्छरदानी लगाकर सो रहे सिद्धार्थ पर हमला कर दिया।

गंभीर रूप से घायल होने के बाद वह किशोरी से और उसके प्रेमी से भिड़ गया। शोर मचाने पर पड़ोसी पहुंच गए। गंभीर रूप से घायल अजय पाल और उसके बेटे सिद्धार्थ समेत सभी लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां चिकित्सकों ने रात करीब दो बजे अजय पाल को मृत घोषित कर दिया। वहीं पड़ोसियों की मदद से पुलिस ने हत्यारोपित किशोरी और उसके प्रेमी हिमांशु को गिरफ्तार कर लिया। एसपी अमित कुमार आनंद ने बताया कि बेटी ने प्रेमी के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया है। पूरे मामले की छानबीन की जा रही है।

पालतू कुत्ता भी हुआ बेहोश
हत्यारोपित किशोरी ने नशीला पदार्थ मिलाने के बाद अपने पालतू कुत्ते को भी खाना खिला दिया। इससे वह भी बेहोश हो गया। सुबह तक कुत्ते को भी होश नहीं आया। वहीं परिवार के अन्य लोग अस्पताल में भर्ती है।