मां का सिर काटकर पत्नी के सामने रखा, बांका लेकर पूरे गांव में घूमा बेटा, फिर…

इस खबर को शेयर करें

सीतापुर। जमीन के लिए बेटे ने मां का सिर बांके से काट दिया। इसके बाद सिर लेकर वह जंगल में भाग गया। पुलिस ने तीन घंटे तलाश के करने के बाद आरोपी को हत्या में प्रयुक्त हथियार के साथ पकड़ लिया। सिर भी बरामद कर लिया। पुलिस अधीक्षक चक्रेश मिश्र ने बताया आरोपी शराब के नशे में था।

तालगांव के मिर्जापुर कमला देवी घर के बाहर धूप सेंक रही थी। दोपहर में उसका बेटा दिनेश बांका लेकर आया और वार करने के लिए दौड़ा, वह भागने लगीं। दिनेश ने कमला को रास्ते पर गिरा दिया और बांके से सिर काट लिया। इसके बाद एक हाथ में सिर और दूसरे में बांका लेकर दिनेश कुछ देर तक गांव में घूमा।

सिर लेकर अपने घर पहुंचा
पुलिस के पहुंचने से पहले दिनेश मां का सिर लेकर जंगल में भाग गया। पुलिस ने तीन घंटे की तलाशी के बाद उसे गांव के ही एक स्कूल के सामने जंगल से पकड़ लिया गया। उसके पास से सिर और बांका बरामद किया गया। मां का सिर काटने के बाद भी दिनेश पर खून सवार रहा। वह सिर लेकर अपने घर पहुंचा और पत्नी रेशमा को दिखाया। रेशमा ने उसके कृत्य का विरोध किया। इसके बाद वह सिर लेकर भाग गया।

पहले पति का बेटा है आरोपी
दरअसल, कमला का विवाह पहले हरद्वारी से हुआ था, जिससे एक बेटा दिनेश है। हरद्वारी की मौत के बाद कमला ने गांव के ही छत्रपाल से शादी कर ली थी। ऐसे में छत्रपाल के घर में कमला और हरद्वारी के पुस्तैनी घर में दिनेश रहता था।

पुलिस अधीक्षक चक्रेश मिश्र ने बताया कि दिनेश की मां कमला के नाम छह बीघा जमीन है। वह उसे अपने नाम करवाना चाहता था। कमला जमीन दिनेश के नाम नहीं कर रही थी। इसी के चलते उसने हत्या कर दी। पुलिस ने आरोपित को पकड़ लिया है। बांका व सिर भी बरामद कर लिया गया है।