बिहार में ग्रेजुएट चायवाली का स्टाल नगर निगम ने किया वापस, कल तेजस्वी व लालू यादव से लगाई थी गुहार

पटना में नगर निगम ने अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत प्रियंका गुप्ता के चाय के स्टाल को जब्त कर लिया था। इसके बाद प्रियंका रोती हुईं तेजस्वी यादव और लालू यादव से मिलने पहुंच गईं थीं।

The Municipal Corporation returned the stall of graduate tea in Bihar, yesterday had appealed to Tejashwi and Lalu Yadav
The Municipal Corporation returned the stall of graduate tea in Bihar, yesterday had appealed to Tejashwi and Lalu Yadav
इस खबर को शेयर करें

पटना: बिहार में ग्रेजुएट चायवाली के नाम से मशहूर प्रियंका गुप्ता के स्टाल को नगर निगम ने वापस कर दिया है। प्रियंका ने गुरुवार को बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव और राजद सुप्रीमो लालू यादव से मिलकर मदद की गुहार लगाई थी, इसके बाद तेजस्वी यादव के हस्तक्षेप से प्रियंका को उनका स्टाल वापस कर दिया गया है। दरअसल, पटना में नगर निगम ने अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत प्रियंका गुप्ता के चाय के स्टाल को जब्त कर लिया था। इसके बाद प्रियंका रोती हुईं तेजस्वी यादव और लालू यादव से मिलने पहुंच गईं थीं।

प्रियंका बोलीं-हमारे पास लाइसेंस
प्रियंका गुप्ता ने कहा हमारे पास चाय का स्टाल लगाने के लिए लाइसेंस भी है। इसके बाद भी उनके स्टाल को नगर निगम की टीम ने जब्त कर दिया। उन्होंने गुरुवार को कहा था कि उपमुख्यमंत्री ने उन्हें प्रार्थना पत्र देने को कहा है। उधर, नगर निगम के अधिकारियों का कहना है कि प्रियंका गुप्ता के स्टाल को पहले भी हटाया गया था, लेकिन उन्होंने दोबारा उसी जगह पर स्टाल लगा लिया, लिहाजा उसे हटाना पड़ा।

नौकरी न मिलने के बाद लगाया था चाय का स्टाल
प्रियंका गुप्ता पूर्णिया जिले की रहने वाली हैं। उन्होंने बनारस के महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ से स्नातक किया है। इसके बाद उन्होंने दो साल तक सरकारी नौकरी की तैयारी भी है। नौकरी न मिलने के बाद उन्होंने चाय का स्टाल लगाया था। इसके बाद वह काफी मशहूर हो गईं। यहां तक कि कई फिल्म सुपरस्टार भी प्रियंका गुप्ता के स्टाल पर चाय पीने पहुंच चुके हैं।