भीषण हादसे से दहल उठा पूरा देश, कैमरे में कैद हो गया वरना कोई यकीन ना करता

इस खबर को शेयर करें

पटना। पटना के बिक्रम इलाके में रविवार दोपहर दिल दहला देने वाली घटना देखने को मिली। एक महिला ने अपने दो बच्चों को कुएं में फेंकने के बाद खुद भी कूदकर आत्महत्या कर ली। तीनों की मौत हो गई। स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना बिक्रम थाना पुलिस को दी। थाना प्रभारी टीम के साथ मौके पर पहुंचे और फिर महिला और दोनों बच्चों के शवों को कुएं से निकाला गया।

महिला के दोनों बच्चों के साथ कुएं में कूदने की घटना का CCTV फुटेज सामने आया है। CCTV फुटेज से सामने आई तस्वीरें दिल दहला देने वाली हैं। जानकारी मिलते ही कुएं के पास गांव के सैकड़ों लोग जमा हो गए। लोग शव को पहचानने की कोशिश करने लगे।

पहले छोटे, फिर बड़े बेटे को फेंका
गांव के लोगों ने बताया कि रविवार दोपहर 27 साल की एक महिला आसपुर धर्मकांटे के पास कुएं पर पहुंची। उसके साथ करीब डेढ़ साल और तीन साल के बच्चे भी थे। बच्चों को अपने हाथों से नल का पानी पिलाने के बाद उसने पहले छोटे बेटे को कुएं में फेंक दिया, उसके बाद 3 साल के बड़े बेटे को कुएं में धकेला और फिर खुद भी कूद गई।

वीडियो-फोटो वायरल हुआ तो पहुंचे परिजन
इस दर्दनाक घटना का फोटो-वीडियो वायरल होने के बाद उसके घरवाले खोजते-खोजते बिक्रम थाना पहुंचे। इसके बाद महिला की पहचान हुई। उसका नाम निशा कुमारी, उम्र 27 साल थी। बड़ा बेटा तीन साल का अंकित जबकि छोटा बेटा डेढ़ साल का आयुष था। निशा का ससुराल नौबतपुर के रामपुर में है और मायका दुल्हिन बाजार के पास रानी तालाब में है।

बड़ी बात यह है कि निशा बिक्रम में जहां कुएं में कूदी, वह जगह उसके ससुराल से करीब 13 किलोमीटर दूर है। निशा के पति का नाम नीरज कुमार है। उसके घरवालों ने पुलिस को कोई वजह तो नहीं बताई, लेकिन दबी जुबान से पति से किसी बात पर झगड़ा होने की बात कही है।

पूरी घटना की आंखों देखी
दैनिक भास्कर की टीम को एक प्रत्यक्षदर्शी राजेश कुमार ने बताया कि घटना दोपहर लगभग 12:55 की है, जब वो धर्मकांटे के पास बैठे थे। इसी बीच एक महिला, जिसकी उम्र लगभग 27 वर्ष थी, अपने दो बच्चों को गोद में लिए आई। एक बच्चे की उम्र लगभग डेढ़ वर्ष और हाथ से पकड़े दूसरे बच्चे की उम्र लगभग 3 वर्ष की थी। वह कुएं के पास लगे हैंडपंप के पास पहुंची। राजेश कुमार समझे कि महिला शौच के लिए एकांत जगह ढूंढ रही है। यह सोचकर राजेश कुमार ने महिला को हिदायत दी कि बच्चे को ठीक से रखिएगा, कुंआ खुला हुआ है।

फिर थोड़ी देर के लिए वहां से हट गए, ताकि महिला एकांत में शौच कर सके। राजेश कुमार ने बताया कि जब कुछ देर बाद वहां पहुंचे तो देखा कि महिला का कोई अता-पता नहीं है। एक चप्पल कुएं के नजदीक पड़ी थी और दूसरी कुएं के ऊपर रखी थी। जब कुएं के नजदीक पहुंचे और झांककर देखा तो दोनों बच्चे छटपटाते नजर आए।

पुलिस करा रही तीनों की पहचान
बिक्रम थाना प्रभारी धर्मेंद्र कुमार ने मामले की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि आसपुर गांव के नजदीक एक कुएं में महिला के अपने दो बच्चों के साथ कूदकर आत्महत्या कर लेने की सूचना मिली थी। शव को कुएं से निकाल लिया गया है।