9 रुपये के इस शेयर को खरीदने के लिए हो रही मारामारी, 1 लाख रुपये को झट से बना दिया 4 करोड़

Multibagger Stock 2022:: शेयर बाजार में कुछ शेयर्स जबरदस्त रिटर्न दे रहे हैं. ऐसा ही एक शेयर है- डिविज़ लैबोरेट्री लिमिटेड, जिसने पिछले 19 वर्षों में 41 हजार फीसदी से अधिक रिटर्न दिया है. इसने कुछ सालों में 1 लाख रुपये को 4.13 करोड़ रुपये बना दिया है.

There is a fight to buy this share of Rs 9, Rs 1 lakh has been made 4 crores in a hurry
There is a fight to buy this share of Rs 9, Rs 1 lakh has been made 4 crores in a hurry
इस खबर को शेयर करें

Multibagger Stock 2022: शेयर बाजार में धैर्य का गेम होता है. इस जोखिम भरे बाजार में अगर आपने सही समय और शेयर्स का चुनाव किया तो झट से करोड़पति बन जाएंगे. कई शेयर्स बिकवाली के माहौल में भी शानदार रिटर्न देते हैं. ऐसा ही एक शेयर है- डिविज़ लैबोरेट्री लिमिटेड का, जिसने महज कुछ सालों में ही शानदार रिटर्न दिया है. ये शेयर आज से 19 साल पहले एक शेयर 9 रुपये पर था, जबकि आज यह 3,721 रुपये पर कारोबार कर रहा है. यानी 19 वर्षों में इसने 41,000 फीसदी से अधिक का रिटर्न दे चुका है.

डिविज़ लैबोरेट्री लिमिटेड (Divi’s Laboratories Ltd). ने निवेशकों को इतना तगड़ा रिटर्न दिया है कि अगर किसी ने 19 साल पहले इस स्टॉक में 1 लाख रुपये का निवेश किया होता तो आज उसका निवेश 4.13 करोड़ रुपये हो चुका होता.

क्या करती है कंपनी?
डिविज़ लैबोरेट्री लिमिटेड (Divi’s Lab) फार्मा सेक्टर की एक बड़े कैप वाली कंपनी है, जिसका मार्केट कैप 98,972 करोड़ रुपये है. इतना ही नहीं, कंपनी के प्रॉडक्ट्स 95 देशों में एक्सपोर्ट होते हैं. यानी वैश्विक स्तर पर कंपनी का मार्केट मजबूत है. एक्टिव फार्मास्यूटिकल इंग्रेडिएंट्स (API) बनाने वाली दुनियाभर की 3 बड़ी कंपनियों में इसका नाम शामिल है. सबसे ख़ास बात कि वेल्यू रिसर्च के आंकड़ों के हिसाब से यह कंपनी इस समय पूरी तरह कर्ज मुक्त है.

कैसा है शेयर का इतिहास?
शेयर बाजार में शुक्रवार को यह 3,721.10 रुपये पर क्लोज हुए हैं . 13 मार्च 2003 को यह स्टॉक 9 रुपये पर लिस्टेड हुआ था, जबकि आज यह 41,245.56 फीसदी का मल्टीबैगर रिटर्न देते हुए 3,721 रुपये पर है. हालांकि पिछले एक साल के दौरान यह 24.04 फीसदी गिरा है. लेकिन फिर इस कंपनी ने अपने निवेशकों को शानदार रिटर्न दिया है. NSE पर इस स्टॉक ने 18 अक्टूबर 2021 को ₹5,425.10 रुपये का 52 वीक हाई बनाया था, जबकि 26 मई 2022 को इसने अपना 52 वीक लो बनाया, जोकि 3,365.55 रुपये है.

क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स?
अब सवाल है इस शेयर को खरीदना उचित रहेगा या नहीं? शेयरखान के रिचर्स एनालिस्ट ने अपने नोट में कहा है कि रेवेन्यू ग्रोथ अच्छी रही है. कम टैक्स के चलते इसका PAT (प्रॉफिट अफ्टर टैक्स) दो अंकों में रहा है. हालांकि यह दिए गए एस्टीमेट से कम रहा है, लेकिन आगे की तिमाहियों में इसकी पर्फॉर्मेंस में सुधार हो सकता है. शेयरखान के रिचर्स एनालिस्ट्स ने इसे बाय रेटिंग देते हुए कहा है कि लॉन्ग टर्म में यह शेयर ऊपर ही तरफ ही बढ़ेगा और यहां से 4,450 रुपये का टार्गेट हासिल कर सकता है. इसके अलावा, ओसवाल मोतीलाल ने भी इसमें खरीदारी की सलाह दी है.