बहनों से था इतना प्यार कि उनके बीच बांट दिया अपना पति, अब खुशी खुशी रहती है एक ही घर में

बचपन से बहनों के साथ सब कुछ बांटा बड़े होने पर उनके साथ पति का प्यार भी बांट दिया. एक महिला ने अपनी 2 बहनों को सौतन बना लिया. अब खुशी खुशी एक ही घर में रहती है न लड़ाई न झगड़ा. बस एक दूसरे से प्यार. महिला ने एक इंटरव्यू में दंग करने वाला खुलासा किया.

There was so much love for the sisters that she divided her husband between them, now happily lives in the same house
There was so much love for the sisters that she divided her husband between them, now happily lives in the same house
इस खबर को शेयर करें

यह कहावत और ये जुमला अक्सर आपने सुना होगा की एक औरत सब कुछ बांट सकती है लेकिन पति और उसका प्यार कभी भी और किसी के साथ हम नहीं बांट सकती. लेकिन एक महिला ने इस भावना को ही बदलकर रख दिया उसने न सिर्फ अपने पति का प्यार बांटा बल्कि खुशी खुशी अपनी ही बहनों को अपनी सौतन बना लिया. और सभी एक दूसरे के शुक्रगुजार भी रहती है.

बचपन से जिन बहनों के साथ सब कुछ बराबर बांटा बड़े होने पर उन बहनों के साथ अपने पति का प्यार भी बांट दिया. जी हाँ एक महिला ने अपने ही दो बहनों को अपनी सौतन बना लिया और अब खुशी खुशी एक ही घर में रहती है न लड़ाई न झगड़ा. बस एक दूसरे से प्यार पति से कोई शिकायत भी नहीं. यूट्यूब पर Afrimax English को दिए एक इंटरव्यू में महिला के इस खुलासे ने लोगों को दंग कर दिया.

एक नहीं दो महिलाओं में बांट दिया अपने पति का प्यार
पति अगर किसी महिला को आंख भर देख भी लें तो पत्नियां उसकी खबर लेने में देर नहीं लगातीं. लेकिन क्रिस्टीना एक ऐसी महिला हैं जिन्होंने न सिर्फ अपने पति ओमबेनी का प्यार बांटा बल्कि अपनी ही बहनों को अपने सौतन बना डाला. ताज्जुब की बात तो यह है कि क्रिस्टीना को अपने इस कदम पर नाज है उन्हें खुशी है कि उनका पति उनकी दोनों बहनों एलिन और टूमा का बेहद ख्याल रखता है. और उन्हें प्यार करता है. तीनों बहनें एक ही शख्स की पत्नी बनकर एक साथ एक घर में खुशी खुशी रहती हैं.

एक दूसरे की सौतन बनकर खुशी खुशी साथ रहती हैं बहनें
वहीं ओमबेनी अपनी तीनों पत्नियों और 10 बच्चों के परिवार के साथ कच्चे मकान में रहते हैं. ना लड़ाई ना झगड़ा बेहद सामंजस्य के साथ परिवार चलता है. इन सभी की जिम्मेदारी ओमबेनी अकेले ही संभालते हैं. हैरानी इस बात की है की बेहद गरीबी में गुजर बसर कर रहे इतनी बड़े परिवार का भरण पोषण मुश्किलों से करने के बावजूद सभी संतुष्ट रहते हैं.. किसी को किसी से कोई भी शिकायत नहीं रहती. क्रिस्टीना के सामने जब यह बात आयी कि उन्हें अपने पति की दूसरी शादी बहन से करानी हैं तो उन्होंने कोई आपत्ति नहीं की बल्कि अपनी दूसरी बहन की शादी भी अपने ही पति से करवाने के लिए खुशी खुशी राजी हो गई थी. यानी बचपन में माता पिता का प्यार और बड़े होने पर पति की प्यार आपस में बराबर बांटकर खुश हैं बहनें.