ये मेरा बेटा नहीं हो सकता…सिरफिरे पिता ने मासूम के मुंह में कपड़ा ठूंसकर मार डाला, पत्नी पर करता था शक

This cannot be my son... the crazy father killed the innocent child by stuffing a cloth in his mouth, he used to suspect his wife
This cannot be my son... the crazy father killed the innocent child by stuffing a cloth in his mouth, he used to suspect his wife
इस खबर को शेयर करें

बहराइच: यूपी के बहराइच से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। जहां एक सिरफिरे पिता ने अपने डेढ़ साल के मासूम बच्चे के मुंह में कपड़ा ठूस भूसे में सिर दबाकर फरार हो गया। तलाश के बाद गंभीर रूप से घायल को परिजनों ने आनन-फानन में अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां इलाज के दौरान उसकी सांसे थम गईं। मृतक की मां ने वारदात की वजह पति का गैर महिला से अवैध संबंध बताया। वहीं, पुलिस ने आरोपी को दबोच लिया। पूछताछ में उसने बताया कि उसे बीवी के चरित्र पर शक था।

ये घटना रुपईडीहा थाने के चितरहिया गांव का है। लक्ष्मी देवी का डेढ़ साल का बेटा आनंद गुरुवार सुबह 4 साल की बड़ी बहन निधि के साथ खेलते समय अचानक लापता हो गया। काफी खोजबीन के बाद परिजनों को वह भुसैला में मिला। निधि ने बताया कि पापा आनंद को भुसैला में लेकर गए थे। जब वह भुसैले वाले घर की तरफ दौड़ी, तो पति सुजीत को बाहर निकलते हुए देखा। जब वह भुसैले के अंदर गई तो पाया कि बेटा आनंद मुंह के बल भूसे में धंसा हुआ है। उसने तुरंत उसे बाहर निकाल कर, उसके मुंह में ठूंसा हुआ कपड़ा बाहर निकाला। उसकी की हल्की-हल्की सांसें चल रही थीं।

आनन-फानन में परिजन उसे लेकर बाबागंज नर्सिंग होम पहुंचे। जहां हालत गंभीर देखकर डॉक्टरों ने उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया। हालांकि इलाज के दौरान गुरुवार रात उसने दम तोड़ दिया। बच्चे की मां ने शुक्रवार सुबह शव को लेकर थाने पहुंची। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया है। थानध्यक्ष ने बताया कि मृतक के मां की तहरीर पर उसके पति को नामजद कर हत्या की धाराओं में केस दर्ज किया गया है। आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। उसे जेल भेजा जा रहा है।

वहीं एसपी वृंदा शुक्ला ने बताया कि विवेचना व साक्ष्य संकलन से यह तथ्य प्रकाश में आया है कि आरोपी सुजीत कुमार वर्मा अपनी पत्नी पर शक करता था और मृत बालक आनन्द वर्मा को अपना पुत्र न मानकर किसी अन्य का होना बताता था, इसलिए उसकी ओर से अपने डेढ़ वर्षीय पुत्र आनन्द वर्मा की हत्या कर दी गई है।