राजस्थान में IMD का अलर्ट, आज और कल बारिश की संभावना, छाए रहेंगे बादल

“Transfer storm” will continue further in Rajasthan, churning is going on on the list of senior officers.
“Transfer storm” will continue further in Rajasthan, churning is going on on the list of senior officers.
इस खबर को शेयर करें

Rain Alert In Rajasthan: राजस्थान में तापमान में गिरावट तो आई है, लेकिन इसी के साथ बारिश की भी संभावना बन रही है. मौसम विभाग ने नए कमजोर पश्चिमी विक्षोभ के चलते बारिश की संभावना जताई है. मौसम विभाग के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने से 26-27 फरवरी को उत्तर-पश्चिमी राजस्थान के ऊपर एक परिसंचरण तंत्र बनने की प्रबल संभावना है. इसके प्रभाव से इन दिनों में अजमेर, जयपुर व भरतपुर संभाग के कुछ भागों में गरज-चमक के साथ हल्की बारिश होने की संभावना है.

बारिश की वजह से फसलों को भी नुकसान हो सकता है. क्योंकि इस वक़्त रबी की फसल की कटाई शुरु होने वाली है. ऐसे में बारिश के साथ अगर हवा चली तो गेहूं और सरसों की फसल खेतों में लेट सकती है. जिससे किसानों को काफी नुकसान हो सकता है.

एक कमजोर पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से 26-27 फरवरी को बादल छाने व कहीं-कहीं बूंदाबांदी की संभावना. एक और तीव्र पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने से 1-3 मार्च को कुछ भागों में मेघगर्जन, कहीं-कहीं तेज हवाओं के साथ बारिश की गतिविधियों होने की प्रबल संभावना है.

कोहरे ने तोड़ा 10 साल का रिकॉर्ड
फ़रवरी में राजस्थान में 8 दिनों तक कोहरा रहा, लेकिन घना कोहरा चार दिनों तक माना गया. कुल मिला कर इस बार 25 दिन कोहरा छाया रहा. बीकानेर, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़ और चूरू में फ़रवरी माह में पांच दिनों तक कोहरा रहा, लेकिन मौसम विभाग ने उसे कोहरे की श्रेणी में नहीं रखा. अगर दिसम्बर से मार्च तक के बीच आंकड़े देखें तो दिसम्बर और जनवरी में दो – दो दिन और फ़रवरी में एक दिन कोहरा रहता है, लेकिन इस वर्ष जनवरी में पिछले सालों के मुक़ाबले दस गुना ज़्यादा कोहरा छाया रहा.