हरियाणा में ट्यूबवेल पर चोरी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, कबाड़ी समेत 5 गिरफ्तार

हरियाणा के करनाल जिले में पुलिस की सीआईए-टू टीम द्वारा कुंजपुरा-मधुबन एरिया में किसानों के खेतों में लगे टयूबवेलों की मोटर्स चुराने वाले मोटर्स चोर गिरोह के 4 सदस्यों को गिरफ्तार करने की सफलता हासिल की है. आरोपियों ने रिमांड के दौरान खुलासा किया कि वे लोग अब तक करीब 50 वारदातों को अंजाम दे चुके है. पुलिस ने एक कबाड़ी को भी गिरफ्तार किया है.

Tubewell theft gang busted in Haryana, 5 arrested including scrap
Tubewell theft gang busted in Haryana, 5 arrested including scrap
इस खबर को शेयर करें

करनाल: हरियाणा के करनाल जिले में पुलिस की सीआईए-टू टीम द्वारा कुंजपुरा-मधुबन एरिया में किसानों के खेतों में लगे टयूबवेलों की मोटर्स चुराने वाले मोटर्स चोर गिरोह के 4 सदस्यों को गिरफ्तार करने की सफलता हासिल की है. आरोपियों ने रिमांड के दौरान खुलासा किया कि वे लोग अब तक करीब 50 वारदातों को अंजाम दे चुके है. पुलिस ने एक कबाड़ी को भी गिरफ्तार किया है.

करनाल पुलिस की सीआईए-टू शाखा के इंचार्ज मोहन लाल ने बताया कि पिछले करीब 7-8 माह से कुंजपुरा-मधुबन एरिया के किसानों के खेतों में लगी मोटर्स चोरी हो रही थी किसान लगातार पुलिस के पास शिकायतें दर्ज करवा रहे थे. टयूवबेल मोटर्स-तार चोरी की लगातार बढ़ रही वारदातों को देखते हुए जिला पुलिस कप्तान गंगा राम पूनिया ने आरोपियों को पकड़ऩे की जिम्मेदारी सीआईए-टू शाखा को सौंपी. जांच मिलते ही सीआईए-टू टीम इंचार्ज ने टीमों का गठन करके एक के बाद चार आरोपियों को गिरफ्तार किया.

गिरफ्तार आरोपियों को कोर्ट में पेश कर 4 दिन का रिमांड हासिल किया. रिमांड के दौरान आरोपियों ने कई खुलासे किए. पुलिस आरोपियों को कोर्ट में पेश कर दोबारा रिमांड की मांग करेंगी ताकि मामले में अन्य आरोपियों के बारे में जानकारी हासिल की जा सकें. आरोपी हर समय मछली का जाल व रेहड़ी साथ रखते थे.

सीआईए-टू इंचार्ज मोहन लाल ने बताया कि आरोपी रात के समय ही चोरी की वारदातों को अंजाम देते थे. आरोपी चोरी की वारदात को अंजाम देने से पहले हर समय अपने साथ मछली का जाल व रेहड़ी रखते थे. आरोपियों ने पुलिस के समक्ष खुलासा किया अगर वे पकड़े जाते तो कह देते थे कि मछली पकडऩे आए हैं. आरोपी मोटर्स को चोरी करके घर लाते ओर पार्ट को अलग-अलग करके कबाड़ी शहजाद को बेच देते थे. आरोपियों ने खुलासा किया वे अब तक करीब 40 से 45 मोटर्स की चोरी कर कॉपर व वायर को बेच चुके हैं.