मंगल ग्रह से बन गया यूपी-बिहार के दो शहरों का कनेक्शन, जानिए कैसे पनपा यह रिलेशन

Two cities of UP-Bihar got connected to Mars, know how this relation developed
Two cities of UP-Bihar got connected to Mars, know how this relation developed
इस खबर को शेयर करें

Mars Latest News: नासा के मुताबिक, मंगल ग्रह की सतह भूरे, सुनहरे और टैन कलर की है, जबकि दूर से देखने पर यह लाल (चट्टानों, रेजोलिथ और धूल में लोहे के ऑक्सीडाइजेशन) जैसा नजर आता है. मंगल ग्रह से नॉर्थ इंडिया के दो शहरों का कनेक्शन जुड़ा है. वहां मिले तीन गड्ढों के नाम एक वैज्ञानिक और दो शहरों के नाम पर रखे गए हैं. आइए, जानते हैं इस बारे में:

समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, मंगल की सतह पर तीन गड्ढे (क्रेटर) खोजे गए हैं.

तीन गड्ढों में एक का नाम जाने-माने भौतिक विज्ञानी दिवंगत देवेंद्र लाल के नाम पर रख दिया गया है.

दो अन्य गड्ढों के नाम उत्तर भारत के दो शहरों (मुरसान और हिलसा) के नाम पर रखे गए हैं. मुरसान और हिलसा क्रमशः उत्तर प्रदेश (यूपी) और बिहार के शहर हैं.

ताजा खोज वैज्ञानिकों की एक टीम की ओर से की गई, जिसमें गुजरात के अहमदाबाद स्थित भौतिक अनुसंधान प्रयोगशाला (पीआरएल) के शोधकर्ता शामिल रहे.

जून, 2024 की शुरुआत में एक अंतरराष्ट्रीय निकाय ने नामकरण को मंजूरी दी.

भारत सरकार के अंतरिक्ष विभाग की इकाई पीआरएल की प्रेस रिलीज में बताया गया कि तीन क्रेटर मंगल ग्रह के थारिस ज्वालामुखी क्षेत्र में हैं. थारिस मंगल ग्रह के पश्चिमी गोलार्ध में भूमध्य रेखा के पास केंद्रित विशाल ज्वालामुखीय पठार है.

पीआरएल के निदेशक अनिल भारद्वाज की ओर से बयान में जानकारी दी गई कि पीआरएल की सिफारिश पर अंतरराष्ट्रीय खगोलीय संघ (आईएयू) के एक कार्य समूह ने पांच जून को लाल क्रेटर, मुरसान क्रेटर और हिलसा क्रेटर नाम देने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है.