रेप के लिए तो दो-तीन चाहिए; कांग्रेस नेता ने बलात्कार की पीड़िता को ही डांट दिया

Two-three are needed for rape; Congress leader scolded the rape victim herself
Two-three are needed for rape; Congress leader scolded the rape victim herself
इस खबर को शेयर करें

बेंगलुरु: त्रिशा के बारे में तमिल अभिनेता मंसूर अली खान की “बलात्कार संबंधी टिप्पणी” को लेकर पूरा देश गुस्से में है। इस बीच कर्नाटक के एक कांग्रेस नेता का एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। कांग्रेस के पूर्व विधायक अमरेगौड़ा पाटिल एक बलात्कार पीड़िता और मदद मांगने वाले उसके ससुर को कथित तौर पर “डांटने” को लेकर विवादों में आ गए हैं। फोन पर हुई कथित बातचीत सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इसमें वे पीड़िता को डांटते सुने जा सकते हैं।

न्यूज18 की रिपोर्ट के मुताबिक, ऑडियो में पूर्व विधायक को कथित तौर पर उस व्यक्ति को डांटते हुए सुना जा सकता है। वे कहते हैं, “एक आदमी बलात्कार कैसे कर सकता है… इसके लिए कम से कम दो-तीन लोगों की आवश्यकता होगी।” वे शिकायतकर्ता को चेतावनी देते हुए भी सुनाई दे रहे हैं। कांग्रेस नेता कथित तौर पर कहते हैं कि वह (पीड़िता) अपने परिवार को बदनाम कर रही है और सच नहीं बता रही है। शिकायतकर्ता के इरादे पर सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा, “क्या आप सिर्फ एक हाथ से ताली बजा सकते हैं?”

कर्नाटक के कोप्पल जिले में शिकायत दर्ज होने के बाद कांग्रेस नेता के सहयोगी संगनगौड़ा पर बलात्कार का आरोप लगाया गया है। वायरल ऑडियो में पाटिल कहते हैं, “आप नाक कटा रहे हैं। एक लड़की का बलात्कार करने के लिए कम से कम दो-तीन लोगों की जरूरत होती है। इस दुनिया में कोई भी ऐसा नहीं है जो अकेले में किसी का रेप कर सके। मुझे दिखाओ। चाहे वह कितना भी ताकतवर क्यों न हो, कोई भी ऐसा नहीं कर सकता।”

इस पर पीड़िता का ससुर कहता है कि ‘क्या हम झूठ बोल रहे हैं? तो लड़की ने जो कहा है वह सच नहीं है?’ तभी कांग्रेस नेता कहते हैं, “हां, आप साबित करें कि एक व्यक्ति ऐसा कर सकता है। मुझे बहस नहीं करनी है लेकिन तुम्हें ऐसी बातें नहीं करनी चाहिए। आप अपने परिवार को बदनाम कर रहे हैं। इतना ही कहूंगा।” पीड़िता का रिश्तेदार न्याय के लिए गुहार लगाता है लेकिन तभी पूर्व विधायक कहते हैं, “इसके बारे में सोचो। जिस गांव में रेप होता है वहां कोई लड़की नहीं देगा। आपके परिवार का सम्मान खत्म हो जाएगा। आपको ऐसा नहीं करना चाहिए।”

इस कथित बातचीत ने कई लोगों को चौंका दिया है। लोग अब पूर्व विधायक से माफी की मांग कर रहे हैं, यहां तक कि वे सवाल करते हैं कि क्या ऐसे लोगों पर महिलाओं और बच्चों की सुरक्षा के लिए कानून पारित करने और उन्हें लागू करने के लिए भरोसा किया जा सकता है।