मामा ने भांजे की शादी में दिया 21 लाख कैश, 28 तोला सोना, प्लाट, महंगी कार का मायरा

Uncle gave 21 lakh cash, 28 tola gold, plot, expensive car for nephew's wedding
Uncle gave 21 lakh cash, 28 tola gold, plot, expensive car for nephew's wedding
इस खबर को शेयर करें

Trending: राजस्थान के नागौर जिले का मायरा एक बार फिर से चर्चा में रहा. नागौर के जायल खिंयाला के मायरे के गीत आज भी मांगलिक कार्यों में गाये जाते हैं. वहीं अब नागौर जिले के धारणावास गांव का मायरा फिर से चर्चा में आया है. धारणावास निवासी रामकरण मुंडेल के पुत्र जितेंद्र की शादी में उनके मामा हनुमानराम सियाग ने 1 करोड़ 31 लाख का मायरा भरा. इस मायरे में मामा ने अपने भांजे को 21 लाख नगद, 28 तोला सोना सहित एक प्लाट और कार दिया. भांजे की शादी में भरा गया मायरा इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ है.

मामा ने अपने भांजे की शादी में दिए इतने मायरा

चटालिया निवासी पुनाराम सियाग की तीन बेटियां और एक बेटा है. बेटियों में सबसे बड़ी बेटी मंजू देवी की शादी धारणावास निवासी रामकरण मुंडेल के साथ की गई. मंजू देवी के लड़के जितेंद्र की आज शादी है जिसमें उनके भाई हनुमान राम सियाग ने राजस्थान की परंपरा को निभाते हुए बहन के भात (मायरा) भरने पंहुचे और बहन को चुनरी ओढ़ाकर करीब 1 करोड़ 31 लाख का मायरा भरा. जोधपुर में 80 फिट रोड पर 75 लाख रुपए कीमत का एक प्लाट, 28 तोला सोना, 21 लाख नगद और 15 लाख लागत की एक कार शामिल है.

कार-जीप और बसों में 600 लोगों का काफिला

मंजू देवी की भाभी वर्तमान में जोधपुर के कजनाऊ कला गांव की सरपंच है. चटालिया से कार-जीप और बसों में 600 लोगों का काफिला भात भरने धारणावास पहुंचा. चटालिया निवासी सियाग परिवार के पुनाराम ने धारणावास जाकर अपनी पुत्री के यहां मायरा भरा. यह मायरा धारणावास निवासी जयनारायण मुंडेल के यहां पहुंचा.