यूपी अनुपूरक बजट: स्वास्थ्य सेवाओं के लिए जारी होंगे 698 करोड़ रुपये, 14 नए मेडिकल कॉलेजों के लिए बजट को मंजूरी

इस खबर को शेयर करें

प्रदेश में स्वास्थ्य सुधार के लिए 698 करोड़ का अतिरिक्त बजट दिया गया है। खास बात यह है कि अनुपूरक बजट में चिकित्सा शिक्षा पर जोर दिया गया है। फेज 3 के 14 मेडिकल कॉलेजों के संचालन के लिए भी बजट जारी कर दिया गया है। इसी तरह आयुर्वेद व होम्योपैथिक विभाग को 22 करोड़ रुपया दिया गया है।

चिकित्सा शिक्षा एवं प्रशिक्षण महानिदेशालय के लिए गोमती नगर के विभूति खंड में दो मल्टीपरपज हॉल किराये पर लिए जाएंगे। इसके लिए अनुपूरक बजट में दो करोड़ 25 लाख रुपये की अतिरिक्त व्यवस्था की गई है। इसी तरह प्रदेश में फेज तीन के तहत बन रहे 14 नए मेडिकल कॉलेजों के संचालन की तैयारी पूरी कर ली गई है। इन कॉलेजों में नियुक्त होने वाले कर्मियों के लिए 174 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई है। पहले से चल रहे राजकीय मेडिकल कॉलेजों में कर्मचारियों की संख्या बढ़ाई गई है। इनके वेतन के लिए 474 करोड़ का इंतजाम किया गया है।

आयुर्वेद व होम्योपैथिक को 22 करोड़
अनुपूरक बजट में आयुर्वेद एवं होम्योपैथिक विभाग के लिए 22 करोड़ 47 लाख रुपये का प्रावधान किया गया है। इसमें महायोगी गुरु गोरखनाथ आयुष विश्वविद्यालय गोरखपुर के लिए 10 करोड़ का प्रावधान किया गया है। इससे विश्वविद्यालय में स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम शुरू करने के लिए बने एकेडमिक भवन में फर्नीचर, उपकरण एवं अन्य सामग्री खरीदी जाएगी। इसी तरह राजकीय चिकित्सालयों में लघु निर्माण कार्य के लिए 75 लाख रुपये का प्रावधान किया गया है। इस तरह आयुर्वेद पर 10 करोड़ 75 लाख रुपये खर्च होंगे। होम्योपैथी विभाग की शहरी एवं ग्रामीण इलाके में चल रहे अस्पतालों एवं मेडिकल कॉलेजों में कार्यरत आउटसोर्सिंग कर्मियों के भुगतान के लिए 11 करोड़ पांच लाख का प्रावधान किया गया है। इसी तरह राजकीय होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज अलीगढ़ एवं गोरखपुर के लिए आउट सोर्सिंग कर्मियों के बकाया पारिश्रमिक के भुगतान के लिए 67 लाख रुपये का प्रावधान किया गया है।

खाद्य एवं औषधि प्रशासन को 26 करोड़
अनुपूरक बजट में खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग को मंडलीय प्रयोगशालाओं के भवन निर्माण के लिए 26 करोड़ 27 लाख रुपये का प्रावधान किया गया है। इसमें पांच करोड़ से फर्नीचर एवं उपकरण खरीदे जाएंगे। लैब के उच्चीकरण में एक करोड़ 27 लाख रुपया खर्च होगा। जबकि 20 करोड़ बड़े निर्माण कार्य में खर्च किया जाएगा।

सीएम कृषक दुर्घटना योजना के लिए 200 करोड़ मंजूर
मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना योजना में आर्थिक सहायता का इंतजार कर रह मृतक किसानों के आश्रितों को अब जल्द आर्थिक सहायता मिलेगी। सरकार ने अनुपूरक बजट में मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना के लिए अनुपूरक बजट में 200 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है। वहीं भूमि अर्जित करने, पुनर्वासन और पुर्नव्यवस्थापन के लिए 6.67 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है।