Virat Kohli: कोहली के लिए काल है जंपा का लेग स्पिन, 8वीं बार आउट कर बनाया था यह रिकार्ड

भारतीय बल्लेबाज विराट कोहली को आउट करना दुनिया के ज्यादातर गेंदबाजों के लिए सबसे मुश्किल काम हो सकता है, लेकिन आस्ट्रेलियाई लेग स्पिनर एडम जंपा को भारतीय दिग्गज कोहली के खिलाफ सफलता मिल रही है।

Virat Kohli: For Kohli, it is time for Zampa's leg spin, this record was made by getting out for the 8th time
Virat Kohli: For Kohli, it is time for Zampa's leg spin, this record was made by getting out for the 8th time
इस खबर को शेयर करें

नई दिल्ली। भारतीय बल्लेबाज विराट कोहली को आउट करना दुनिया के ज्यादातर गेंदबाजों के लिए सबसे मुश्किल काम हो सकता है, लेकिन आस्ट्रेलियाई लेग स्पिनर एडम जंपा को भारतीय दिग्गज कोहली के खिलाफ सफलता मिल रही है। शुक्रवार को नागपुर में दूसरे टी 20 मैच में विराट कोहली को जंपा ने सिर्फ 11 रन के स्कोर पर बोल्ड कर दिया था। जंपा के क्रिकेट करियर में ये 8वां मौका था जब उन्होंने विराट कोहली को आउट किया। उन्होंने कोहली को 8 बार में से 5 बार कैच आउट जबकि दो बार बोल्ड आउट किया है।

विराट कोहली को अब आस्ट्रेलिया की तरफ से सबसे ज्यादा बार आउट करने के मामले में लेग स्पिनर एडम जंपा पहले नंबर पर पहुंच गए हैं। इससे पहले आस्ट्रेलिया की तरफ से सबसे ज्यादा बार कोहली को आउट करने वाले बालर पैट कमिंस थे और उन्होंने अब तक 7 बार ऐसा किया है। कमिंस ने 28 पारियों में कोहली को सात बार पवेलियन भेजा है। कोहली को लेग स्पिनर के खिलाफ खेलने में दिक्कत होती है और ये बात नागपुर में भी नजर आई। उन्होंने जंपा की गेंद पर शाट लगाने की कोशिश की, लेकिन गेंद बल्ले और पैड के बीच से गुजरती हुई विकेट से टकरा गई।

टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट की बात करें तो जंपा ने विराट कोहली को तीसरी बार अपना शिकार बनाया। हालांकि कोहली के आउट होने के बाद भारत के रन रेट पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा और रोहित शर्मा व दिनेश कार्तिक ने मैच जीत लिया। दिनेश कार्तिक ने इस मैच में चौका लगाते हुए टीम को जीत दिलाई। दिनेश कार्तिक ने इस मैच में दो गेंदों पर एक चौका व एक छक्के की मदद से नाबाद 10 रन की पारी खेली और भारत ने 6 विकेट से मैच जीतकर तीन मैचों की सीरीज में 1-1 की बराबरी कर ली। वहीं जंपा ने 2 ओवर में 16 रन देकर 3 विकेट लिए और कोहली समेत केएल राहुल और सूर्यकुमार यादव को आउट किया। इस मैच को बारिश की वजह से 8-8 ओवर का कर दिया गया था और एक गेंदबाज को अधिकतर दो ओवर फेंकने की इजाजत दी गई थी।