कौन हैं बिहार के सौरभ, जिन्होंने भारत-ऑस्ट्रेलिया मैच से जीते एक करोड़ रुपये, बैंक खाते में आया 70 लाख

भोजपुर (आरा) जिले के गांव का एक युवक रातभर में मालामाल हो गया। जिले के चरपोखरी प्रखंड के ठकुरी गांव के वेंकटेश सिंह के पुत्र सौरभ कुमार ने आनलाइन गेमिंग एप में भारत-आस्‍ट्रेलिया क्रिकेट मैच के लिए टीम बनाकर पूरे एक करोड़ रुपए जीत लिए। इन रुपयों में टैक्‍स काटने के बाद उन्‍हें इनाम की रकम भी मिल गई है।

Who is Saurabh of Bihar, who won one crore rupees from India-Australia match, 70 lakhs came in the bank account
Who is Saurabh of Bihar, who won one crore rupees from India-Australia match, 70 lakhs came in the bank account
इस खबर को शेयर करें

चरपोखरी। भोजपुर (आरा) जिले के गांव का एक युवक रातभर में मालामाल हो गया। जिले के चरपोखरी प्रखंड के ठकुरी गांव के वेंकटेश सिंह के पुत्र सौरभ कुमार ने आनलाइन गेमिंग एप में भारत-आस्‍ट्रेलिया क्रिकेट मैच के लिए टीम बनाकर पूरे एक करोड़ रुपए जीत लिए। इन रुपयों में टैक्‍स काटने के बाद उन्‍हें इनाम की रकम भी मिल गई है।

ठकुरी गांव निवासी वेंकटेश सिंह के पुत्र सौरभ कुमार ने बताया कि वह वर्ष 2019 से मोबाइल एप पर ड्रीम 11 क्रि‍केट टीम बनाता रहा है। यह एक तरह का लाटरी गेम है। इसमें 11 खिलाड़ियों की टीम बनाकर वह रुपए लगाता है। मैच खेलने के दौरान वह कई बार हजारों रुपए जीत और हार चुका है।

30 लाख टैक्‍स काटकर मिली रकम

मंगलवार की शाम उसने भारत-आस्‍ट्रेलिया मैच के लिए मोबाइल एप पर टीम सेट की। रात होते-होते मैच खत्म होने के बाद उसके पास एक करोड़ रुपए जीतने का मैसेज आया। जब अपना ड्रीम 11 का वॉलेट अकाउंट चेक किया उसमें उसके खाते में 70 लाख रुपये जमा थे। युवक ने बताया कि 30 लाख टैक्स के काट लिए गए हैं। जानकारी लगते ही परिवार में खुशी का माहौल हो गया। एक करोड़ रुपए जीतने से सौरभ बेहद खुश हैं।

सौरभ स्नातक पार्ट-1 का छात्र है, अपने तीन भाइयों में दूसरे स्थान पर है। इनका बड़ा भाई सागर भोजपुरी गायक है, जबकि छोटा भाई संगम पढ़ाई करता है। सौरभ अपने गांव में ही ट्यूशन पढ़ाता है। शुरू से ही क्रिकेट खेलना और देखने में रुचि रखते हैं। लगातार कई साल से ड्रीम 11 पर भाग्य आजमा रहे हैं। इसी कड़ी में उन्हें मंगलवार की रात बेहतर सफलता मिली और एक करोड़ रुपये जीत लिए।

लाटरी जैसे गेम खेलने की हम नहीं देते सलाह

लाटरी जैसे गेम खेलने की सलाह आपको जागरण डाट काम नहीं देता है। ऐसे गेम में रोजाना ढेरों लोग शामिल होते हैं और अपना पैसा लगाते हैं। उनकी वक्‍त अलग से बर्बाद होता है। लाटरी वाले गेम में विजेता कोई एक या सीमित लोग ही बनते हैं। इसी गेम के जरिए संबंधित कंपनी रुपए कमाती है। इसलिए ऐसे गेम में आप अपना भला-बुरा सोचकर ही शामिल हों।