पत्नी ने प्रेमी के संग मिलकर किया पति का कत्ल, 6 माह तक करती रही श्रृंगार

राजस्थान के भरतपुर जिले के चिकसाना थाना इलाके में पत्नी की बेवफाई की दिल को दहला देने वाली कहानी सामने आई है. यहां एक पत्नी अपने पड़ोसी के प्यार में पागल हो गई. उसने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति को मौत के घाट उतार दिया.

Wife killed her husband along with her lover, kept making up for 6 months
Wife killed her husband along with her lover, kept making up for 6 months
इस खबर को शेयर करें

भरतपुर. राजस्थान के भरतपुर (Bharatpur) जिले में पुलिस ने 6 माह पहले लापता हुए एक शख्स को लेकर सनसनीखेज खुलासा किया है. लापता हुए इस शख्स का उसकी पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर कत्ल (Murder) कर दिया था. बाद में शव को बोरे में बांधकर उसे नहर में फेंक दिया. लोगों को इस बात का आभास नहीं हो इसके लिए पत्नी पति की हत्या के बाद 6 माह तक श्रृंगार करके घूमती रही. अब 6 महीने बाद जब इस मामले का खुलासा हुआ तो मृतक के परिजनों के पैरों तले से जमीन खिसक गई. पुलिस ने आरोपी पत्नी और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है. यह मामला भरतपुर के चिकसाना थाना इलाके से जुड़ा हुआ है.

चिकसाना थानाधिकारी विनोद कुमार ने बताया कि हत्या के शिकार हुए पवन की शादी करीब सात साल पहले आरोपी रीमा के साथ हुई थी. इस शादी में पांच साल बाद एक मोड़ आ गया. पवन की पत्नी रीमा को 2 साल पहले अपने ही पड़ोस में रहने वाले भागेंद्र नाम के युवक से प्रेम हो गया और दोनों चोरी छिपे मिलने जुलने लगे. इसी दौरान 29 मई 2022 को रीमा ने अपने प्रेमी भागेंद्र को फोन करके बुलाया. भागेंद्र अपने दोस्त के साथ रीमा से मिलने के लिए गांव पहुंचा.

पवन ने पत्नी को देख लिया था प्रेमी के साथ आपत्तिजनक हालत में
रात को भागेंद्र अपने साथी दीप को बाहर छोड़कर रीमा से मिलने के लिए घर के अंदर चला गया. उसी दौरान पवन की नींद खुल गई. पवन ने अपनी पत्नी रीमा और भागेंद्र को आपत्तिजनक स्थिति में देखा तो उसका विरोध किया. विरोध करने पर भागेंद्र और रीमा ने पवन का मुंह दबा लिया और फिर गला घोंटकर हत्या कर दी. उसके बाद भागेंद्र ने अपने दोस्त दीप को घर के अंदर बुलाया.

शव को पत्थर से बांधकर गंदे पानी की नहर में फेंक दिया
उन्होंने पवन के शव को एक चादर में लपेटकर प्लास्टिक की रस्सी से बांधा. बाद में उसे बोरी में डालकर ले गए. घर से करीब 2 किलोमीटर दूर जाकर शव को पत्थर से बांधकर गंदे पानी की नहर में फेंक दिया. उसके बाद भागेंद्र अपने दोस्त के साथ उसी रात दिल्ली वापस चला गया. वहीं वारदात को छिपाने के लिए पत्नी पूरी तरह श्रृंगार करके रहती थी. वह उसी बिस्तर पर भोजन करती थी जहां पर पवन की हत्या की गई थी.

4 जून को चिकसाना थाने में गुमशुदगी का मामला दर्ज हुआ था
इस पूरे मामले को लेकर पवन के पिता ने 4 जून को चिकसाना थाने में बेटे की गुमशुदगी का मामला दर्ज कराया।. पुलिस पूरे मामले की जांच करती रही लेकिन कड़ी नहीं खुल पाई. वहीं वारदात के बाद भागेंद्र और रीमा दोनों एक दूसरे से बातचीत करते रहे. अक्टूबर के महीने में भागेंद्र अपनी प्रेमिका रीमा से मिलने के लिए फिर उसके घर पहुंच गया. वहां रीमा और भागेंद्र को पवन के पिता ने आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ लिया. इस पर परिजनों को दोनों पर पवन की हत्या करने का शक हुआ.

आरोपी आपस में कोड वर्ड के जरिए बात करते थे
उसके बाद दोनों के खिलाफ चिकसाना थाने में हत्या का मामला दर्ज कराया गया. चिकसाना थाना पुलिस ने पूरे मामले में गहनता से जांच की. जांच में पूरी कहानी सामने आने पर पुलिस ने भागेंद्र और रीमा को गिरफ्तार कर लिया. पवन की बहन ने बताया कि भाई की हत्या करने के बाद भी उसकी पत्नी रीमा सज संवर कर रहती थी. ताकि परिवार वालों को किसी तरह का शक पैदा ना हो. पवन के पिता ने बताया कि रीमा और उसका प्रेमी भागेंद्र आपस में कोड वर्ड के जरिए बात करते थे.