सरकार के एक फैसले से कर्मचारियों को मिलेगी दोहरी खुशी, बढ़ जाएगी सैलरी और पेंशन!

सरकार अगर कर्मचारियों की बेसिक सैलरी में इजाफा करती है, तो कर्मचारियों का पेंशन योगदान और सैलरी दोनों में बढ़ोतरी हो जाएगी.

With a decision of the government, employees will get double happiness, salary and pension will increase!
With a decision of the government, employees will get double happiness, salary and pension will increase!
इस खबर को शेयर करें

Employees Salary and Pension Hike: केंद्र सरकार कर्मचारियों को लेकर एक बड़ा फैसला करने पर विचार कर रही है. अगर यह फैसला लिया जाता है, तो केंद्र सरकार के कर्मचारियों और प्राइवेट के कर्मचारियों की सैलरी और पेंशन में इजाफा (Salary and Pension Hike) हो जाएगा. इसके साथ ही कर्मचारियों (Employees salary) को मिलने वाला भत्ता भी बढ़ जाएगा. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, सरकार ईपीएफओ सदस्यों (EPFO Members) की बेसिक सैलरी बढ़ाकर 21 हजार रुपये (Basic Salary Hike) करने वाली है. अभी कर्मचारियों की बेसिक सैलरी 15 हजार रुपये है.

अगर बेसिक सैलरी 21 हजार रुपये हो जाती है, तो कर्मचारियों का पीएफ का योगदान (PF Contribution) भी बढ़ जाएगा. इसके अलावा कर्मचारियों की पेंशन राशि (Pension Money) भी बढ़ जाएगी. ईपीएफओ के तहत बेसिक सैलरी बढ़ने से डीए और अन्य भत्ता (DA Hike after Salary Haik) भी अधिक मिलेगा. यह भी गौर करने वाली बात है कि पीएफ के लिए जितना योगदान कर्मचारियों के लिए किया जाएगा, उतना ही कंपनी की ओर से भी किया जाएगा.

सरकार ने 2014 में बढ़ाई थी बेसिक सैलरी
केंद्र सरकार की ओर से 2014 में बेसिक सैलरी में इजाफा किया गया था. तब कर्मचारियों की बेसिक सैलरी 10 हजार रुपये से कम थी, जिसे बढ़ाकर 15 हजार रुपये कर दिया गया है. कुछ ​मीडिया रिपोर्ट की माने तो अब सरकार कर्मचारियों की सैलरी 21 हजार रुपये करने पर विचार कर रही है. जल्द ही इसपर सरकार की ओर से जवाब आ सकता है.

21 हजार पर पीएफ के लिए कितना कैलकुलेशन
अभी कर्मचारियों की बेसिक सैलरी 15 हजार रुपये पर कैलकुलेशन किया जाता है. कर्मचारियों की सैलरी से हर महीने 1250 रुपनये का ईपीएस में योगदान दिया जाता है. हालांकि अगर बेसिक सैलरी 21 हजार रुपये होती है, तो कंट्रीब्यूशन 1749 रुपये हर महीने होगा, जो 21 हजार का 8.33 फीसदी है. पेंशन की राशि में हर महीने योगदान बढ़ने से 60 साल के बाद कर्मचारियों को अधिक पेंशन मिलेगी.

बेसिक सैलरी बढ़ने से भत्तों में भी इजाफा
अगर कर्मचारियों की बेसिक सैलरी बढ़ जाती है, तो कर्मचारियों को मिलने वाला भत्ता भी बढ़ जाएगा. क्योंकि बेसिक सैलरी पर ही कर्मचारियों का भ​त्ता बढ़ता और घटता है. इसका मतलब है कि कर्मचारियों की सैलरी में और इजाफा हो जाएगा.