Women’s Health: 90% महिलाएं कर देती हैं इन बीमारियों को अनदेखा, हो जाती है मौत!

Women's Health: 90% women ignore these diseases and end up dying!
Women's Health: 90% women ignore these diseases and end up dying!
इस खबर को शेयर करें

आज के भागदौड़ भरे जीवन में महिलाएं अपनी सेहत पर ध्यान देना अक्सर भूल जाती हैं. घर, परिवार और काम की जिम्मेदारियों में उलझी महिलाएं अपनी सेहत को अनदेखा कर देती हैं, जिसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं. कुछ ऐसी बीमारियां हैं जो खासतौर पर महिलाओं में होती हैं और जिनके लक्षणों को अक्सर अनदेखा कर दिया जाता है.

यह जानकर आपको आश्चर्य होगा कि 90% महिलाएं इन बीमारियों के शुरुआती लक्षणों को नजरअंदाज कर देती हैं, जिसके कारण इन बीमारियों का पता देर से चलता है और इलाज में मुश्किलें आती हैं. आइए आज हम ऐसी ही 5 बीमारियों के बारे में जानते हैं जो महिलाओं में आम हैं और जिनके शुरुआती लक्षणों को अक्सर अनदेखा कर दिया जाता है.

1. ब्रेस्ट कैंसर
स्तन कैंसर महिलाओं में होने वाला सबसे आम कैंसर है. भारत में हर साल लाखों महिलाएं स्तन कैंसर का शिकार होती हैं. इस बीमारी के शुरुआती लक्षणों में ब्रेस्ट में गांठ, ब्रेस्ट से ब्लीडिंग, ब्रेस्ट की स्किन में बदलाव आदि शामिल हैं. अगर आप इनमें से किसी भी लक्षण का अनुभव करती हैं तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें.

2. सर्वाइकल कैंसर
सर्वाइकल कैंसर महिलाओं में होने वाला दूसरा सबसे आम कैंसर है. यह बीमारी ह्यूमन पैपिलोमा वायरस (एचपीवी) के संक्रमण से होती है. इस बीमारी के शुरुआती लक्षणों में असामान्य योनि से ब्लीडिंग, योनि में दर्द, पेट में दर्द आदि शामिल हैं. अगर आप इनमें से किसी भी लक्षण का अनुभव करती हैं तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें.

3. अंडाशय कैंसर
अंडाशय कैंसर महिलाओं में होने वाला एक खतरनाक कैंसर है. इस बीमारी के शुरुआती लक्षणों में पेट में दर्द, पेट फूलना, बार-बार पेशाब आना, वजन कम होना आदि शामिल हैं. अगर आप इनमें से किसी भी लक्षण का अनुभव करती हैं तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें.

4. दिल की बीमारी
दिल की बीमारी महिलाओं में मौत का एक प्रमुख कारण है. इस बीमारी के शुरुआती लक्षणों में सीने में दर्द, सांस लेने में तकलीफ, थकान, पसीना आना आदि शामिल हैं. अगर आप इनमें से किसी भी लक्षण का अनुभव करती हैं तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें.

5. डायबिटीज
डायबिटीज महिलाओं में एक आम बीमारी है. इस बीमारी के शुरुआती लक्षणों में बार-बार पेशाब आना, प्यास लगना, भूख लगना, थकान आदि शामिल हैं. अगर आप इनमें से किसी भी लक्षण का अनुभव करती हैं तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें.