योगी सरकार ने पशुपालकों को दिया बड़ा तोहफा, 18 जिलों में मिलेगी 80,000 रुपये तक की सब्सिडी.

Yogi government gave a big gift to cattle farmers, subsidy of up to Rs 80,000 will be available in 18 districts.
Yogi government gave a big gift to cattle farmers, subsidy of up to Rs 80,000 will be available in 18 districts.
इस खबर को शेयर करें

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने पशुपालकों के हित को ध्यान में रखते हुए इसी साल स्वदेशी गौ संवर्धन याेजना लांच की थी, जिसका लाभ अब 18 जिलों में मिलना शुरू हो जाएगा। इस योजना के तहत पशुपालकों को पशुओं की खरीद पर 80 हजार रुपये तक सब्सिडी मिल सकती है। ऐसे में यह योजना पशुपालकों के लिए वरदान की तरह साबित हो सकती है।

मुख्यमंत्री स्वदेशी गौ संवर्धन योजना प्रदेश के 18 जिलों में प्रभावी हो गई है। स्वदेशी गौ संवर्धन योजना के तहत दूसरे प्रदेशों से उन्नत नस्ल की स्वदेशी गायों के क्रय पर अनुदान दिया जाएगा। छोटे पशुपालकों के लिए लागू इस योजना में अधिकतम दो गाय की इकाई की स्थापना पर लागत का 40 प्रतिशत (80,000 रुपये तक) सब्सिडी दी जाएगी। पशुपालक योजना के लिए 17 अक्टूबर तक आवेदन दे सकते हैं।

पहले चरण में इन 18 जिलों में लागू हुई योजना
पहले चरण में जिन 18 जिलों में योजना लागू की गई है, उनमें लखनऊ, कानपुर, अयोध्या, गोंडा, बस्ती, गोरखपुर, वाराणसी, आजमगढ़, प्रयागराज, चित्रकूट, मीरजापुर, झांसी, आगरा, अलीगढ़, बरेली, मुरादाबाद, मेरठ एवं सहारनपुर शामिल हैं। स्वदेशी गौ संवर्धन योजना में गिर, साहीवाल, थारपारकर एवं हरियाणा प्रजाति के क्रय पर अनुदान दिया जाएगा।

क्या है गौ संवर्धन योजना
उल्लेखनीय है कि योगी सरकार ने प्रदेश के गौ पालकों की आय बढ़ाने, उन्हें आत्मनिर्भर बनाने और स्वदेशी प्रजाति की गायों के प्रति उनका रुझान बढ़ाने के लिए स्वदेशी गौ संवर्धन योजना लांच की थी। इसके तहत गौ पालक द्वारा दूसरे राज्य से साहीवाल, थारपारकर और गीर गाय खरीदने पर उन्हें परिवहन, ट्रांजिट बीमा व पशु बीमा समेत अन्य मदों पर खर्च होने वाली धनराशि पर सब्सिडी दिए जाने की योजना है।