मुजफ्फरनगर में भीषण हादसा, आकाशीय बिजली गिरने से मकान ध्वस्त, मां-बेटे की मौत

मुजफ्फरनगर में एक मजदूर के घर पर आकाशीय बिजली गिरने बड़ा हादसा हो गया। रविवार सुबह होने से पहले मूसलाधार बारिश और आकाशीय बिजली गिरने से मकान की छत ढह गई। मलबे में दबने से मजदूर और उसकी बुजुर्ग मां की मौत हो गई।

Horrific accident in Muzaffarnagar, house collapsed due to lightning, mother-son death
Horrific accident in Muzaffarnagar, house collapsed due to lightning, mother-son death
इस खबर को शेयर करें

मुजफ्फरनगर। मुजफ्फरनगर में एक मजदूर के घर पर आकाशीय बिजली गिरने बड़ा हादसा हो गया। रविवार सुबह होने से पहले मूसलाधार बारिश और आकाशीय बिजली गिरने से मकान की छत ढह गई। मलबे में दबने से मजदूर और उसकी बुजुर्ग मां की मौत हो गई। मूसलाधार बारिश के दौरान गांव वालों ने मलबे से दोनों के शव बाहर निकाले। पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर राहत कार्य शुरू कराया।

कच्चे मकान की छत गिरने से हुआ हादसा
मुजफ्फरनगर के थाना क्षेत्र मीरापुर के गांव तुल्हेड़ी में छोटी मोटी मजदूरी कर 7 बच्चों का परिवार पाल रहे 50 वर्षीय मुन्ना पर देर रात आफत टूट पड़ी। मुन्ना पुत्र मैहरुद्दीन अपनी 80 वर्षीय मां अंगूरी के साथ एक कमरे में सोया हुआ था। देर रात मूसलाधार बारिश और देर रात करीब 3 बजे अचानक से आकाशीय बिजली गिरने से कमरे की छत बैठ गई। कमरे में सो रहे मुन्ना और उसकी मां अंगूरी की मलबे के नीचे दबने से मौत हो गई। जैसे ही गांव वालों को घटना की जानकारी मिली तो उन्होंने मलबे से दोनों शव बाहर निकाले।

पुलिस-प्रशासनिक अधिकारियों ने किया मुआयना
सुबह थाना पुलिस और एसडीएम जीत सिंह राय ने मौके का मुआयना किया। उन्होंने बताया कि मूसलाधार बारिश और अचानक गिरी आकाशीय बिजली के चलते मुन्ना के मकान की कच्ची छत ढह गई। छत के मलबे के नीचे दबने से मुन्ना तथा कमरे में सो रही उसकी मां अंगूरी की मौत हो गई। उन्होंने बताया कि परिवार के अन्य लोग दूसरे कमरों में सो रहे थे। एसडीएम जीत सिंह राय ने बताया की देवीय आपदा के तहत शासन से अनुमन्य मुआवजा धनराशि मृतक के आश्रितों को दिलाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। उन्होंने कहा कि पीड़ित परिवार को पक्के मकान में शिफ्ट कर दिया गया है। मृतक के शवों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है।