Surya Nutan: फ्री में 3 वक्त का खाना पकाने वाला चूल्हा लॉन्च, 10 साल चलेगा, सब्सिडी देगी सरकार

Surya Nutan: रसाई गैस की कीमतों में दिनों-दिन हो रही बढ़ोतरी से अब खाना पकाना भी महंगा हो गया है. घरेलू रसाई गैस सिलेंडर की कीमत अब एक हजार रुपये से ऊपर जा चुकी है.

Surya Nutan: Free 3-time cooking stove launched, will last 10 years, government will give subsidy
Surya Nutan: Free 3-time cooking stove launched, will last 10 years, government will give subsidy
इस खबर को शेयर करें

नई दिल्‍ली. Surya Nutan: रसाई गैस की कीमतों में दिनों-दिन हो रही बढ़ोतरी से अब खाना पकाना भी महंगा हो गया है. घरेलू रसाई गैस सिलेंडर की कीमत अब एक हजार रुपये से ऊपर जा चुकी है. कीमतों में बढ़ोतरी से हर कोई परेशान है. इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन ने अब रसोई गैस सिलेंडर का एक विकल्‍प प्रदान किया है. आईओसी ने घर के अंदर इस्तेमाल किया जाने वाला सौर चूल्हा पेश किया. इस चूल्‍हे की खास बात यह है कि इसे रात में भी प्रयोग किया जा सकता है. यह सौर चूल्हा घर के बाहर लगे पैनल से सोलर एनर्जी स्टोर कर लेता है, जिससे बिना धूप में बैठे दिन के तीन वक्त फ्री में खाना पकाया जा सकता है.

पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी के आवास पर आयोजित एक कार्यक्रम में इस सौर चूल्‍हे पर पका खाना परोसा गया. पुरी ने कहा कि इस चूल्हे को खरीदने की लागत के अलावा रख-रखाव पर कोई खर्च नहीं है और इसे पारंपरिक ईंधन के विकल्प के रूप में देखा जा रहा है. फरीदाबाद में आईओसी के अनुसंधान और विकास विभाग ने विकसित किया है.

आईओसी के निदेशक (आरएंडडी) एस एस वी रामकुमार ने कहा कि इस चूल्हे को ‘सूर्य नूतन’ नाम दिया गया है. रामकुमार ने कहा कि यह चूल्‍हा सौर कुकर से अलग है. ऐसा इसलिए है, क्‍योंकि इसे धूप में नहीं रखना होता है. सूर्य नूतन चूल्‍हे से चार सदस्‍यों वाले परिवार के लिए तीन समय का खाना आसानी से बनाया जा सकता है.

सूर्य नूतन चूल्‍हे को धूप में रखने की जरूरत नहीं है. यह चूल्‍हा छत पर लगी सोलर प्‍लेट से एक केबल के जरिए जुड़ा रहता है. सोलर प्लेट से जो ऊर्जा पैदा होती है, वह केबल के जरिए चूल्हे तक आती है. इससे सूर्य नूतन चलता है. सोलर प्लेट सौर ऊर्जा को पहले थर्मल बैटरी में स्टोर करती है. इसी कारण सूर्य नूतन से रात में भी खाना बनाया जा सकता है.