अब चेहरा देखते ही खुल जाएंगे गेट, मार्केट में आने वाली है हुंडई की ये स्मार्ट कार

Now the gate will open on seeing the face, this smart car of Hyundai is coming in the market
Now the gate will open on seeing the face, this smart car of Hyundai is coming in the market
Share this news

नई दिल्ली: कोरियाई कार निर्माता कंपनी हुंडई (Hyundai) के लग्जरी ब्रांड जेनेसिस (Genesis) का दावा है कि उसने स्मार्ट कारों के लिए एक नई तकनीक विकसित की है जो कुछ हद तक स्मार्टफोन में फेस आईडी तकनीक के समान है. यह तकनीक खरीददारों को काफी पसंद आ रही है. दरअसल, कंपनी ने GV60 कार के दरवाजे को खोलने के लिए नया फीचर ‘फेस कनेक्ट टेक्नोलॉजी’ को जोड़ा है. जिसके तहत अब गाड़ी का दरवाजा आदमी का चेहरा पहचानते ही खुल जाएगा और इसके लिए चाबी की जरूरत नहीं पड़ेगी.

बेहतर ड्राइविंग एक्सपीरियंस
जेनेसिस का कहना है कि नई तकनीक से उसके ग्राहकों को बेहतर ड्राइविंग एक्सपीरियंस के लिए अपने वाहनों को पर्सनलाइज करने में मदद मिलेगी. कंपनी के अनुसार यह नई तकनीक बेहद ही शानदार है और रिस्टबैंड या पिन कोड दर्ज करने के मुकाबले बेहतर सुविधा प्रदान करती है. जेनेसिस ने कहा कि यह तकनीक जल्द ही अपने वाहन पोर्टफोलियो में अपनी जगह बना लेगी. यह गाड़ी साल 2022 की शुरुआत से बाजार में उपलब्ध होगी.

फेस आईडी से स्टार्ट होगी कार
इस तकनीक की मदद से कार चलाने वाले को कार के अंदर पर्सनलाइज्ड अनुभव मिलेगा. यह तकनीक कार ड्राइवर की पहचान करने के बाद इसके प्रोफाइल को कार में रजिस्टर कर देता है. यह कार जैसे ही ड्राइवर की पहचान करेगी वैसे ही इसकी सीट, स्टीयरिंग व्हील, हेड्स-अप-डिस्प्ले, साइड मिरर, इंफोटेनमेंट सिस्टम अपने आप ही रजिस्टर्ड प्रोफाइल के अनुसार एडजस्ट हो जाएगा.

सारी सेटिंग्स खुद-ब-खुद एडजस्ट हो जाएंगी
इस तकनीक के लिए कंपनी नियर इन्फ्रा-रेड (NIR) कैमरे का उपयोग करेगी, जो कि अंधेरे में भी काम करेगा और ड्राइवर की पहचान कर पता लगा सकेगा कि चेहरा सिस्टम में पहले से रजिस्टर है या नहीं. इस गाड़ी की खासियत यह है कि अगर घर से निकलते समय आप चाबी भूल भी जाते हैं तो कोई बात नहीं क्योंकि इसे खोलने के लिए आपका चेहरा काफी है. जेनेसिस का कहना है कि फेस कनेक्ट सिस्टम प्रत्येक वाहन के लिए दो चेहरों का डेटा स्टोर कर सकता है। रजिस्टर की जाने वाली जानकारी एन्क्रिप्टेड होगी और इसे बिना किसी सुरक्षा जोखिम के स्टोर किया जाएगा। ड्राइवर अपने मन मुताबिक किसी भी समय अपनी जानकारी को हटा सकता है

फिंगर प्रिंट से खुलेंगे कार के दरवाजे

फेस आईडी के अलावा कार में स्मार्टफोन की ही तरह फिंगर प्रिंट ऑथेंटिकेशन सिस्टम भी दिया गया है जो कि बायोमेट्रिक डेटा का उपयोग करके वाहन को शुरू कर देगा. इसमें भी खास बात है कि अगर आप कार चलाना चाहते हैं तो आपको सिर्फ अपने चेहरे या फिंगर प्रिंट को स्कैन करना होगा, यहां आपको चाबी की जरूरत नहीं होगी.

ऑटो इंडस्ट्री में कंपनी की धूम
यह नई तकनीक की पेशकश कर जेनेसिस ऑटो सेक्टर में अपना वर्चस्व कायम करना चाहती है. यानी अब कहा जा सकता है कि यह एक स्मार्ट कार है और किफायती तकनीक के मामले में GV60 भविष्य में कई कंपनियों को पीछे छोड़ सकती है.