अभी अभी: बिहार में जहरीली शराब ने मचाया तांडव, अब तक 7 की मौत, कई की हालत खराब

बिहार में जहरीली शराब से मौतों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। सारण जिले में संदिग्ध हालत में मौतों का आंकड़ा बढ़कर 7 हो गया है। वहीं, दो अन्य लोगों का छपरा सदर अस्पताल में इलाज जारी है। बताया जा रहा है कि सभी की शराब पीने के बाद तबीयत बिगड़ गई थी। मृतकों में छह लोग मढ़ौरा थाना इलाके के भुआलपुर गांव के थे। वहीं, एक शख्स गुड़खा का रहने वाला था।

इस खबर को शेयर करें

बिहार में जहरीली शराब से मौतों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। सारण जिले में संदिग्ध हालत में मौतों का आंकड़ा बढ़कर 7 हो गया है। वहीं, दो अन्य लोगों का छपरा सदर अस्पताल में इलाज जारी है। बताया जा रहा है कि सभी की शराब पीने के बाद तबीयत बिगड़ गई थी। मृतकों में छह लोग मढ़ौरा थाना इलाके के भुआलपुर गांव के थे। वहीं, एक शख्स गुड़खा का रहने वाला था।

भुआलपुर गांव आरजेडी विधायक जीतेंद्र कुमार राय का है। स्थानीय एसडीओ योगेंद्र कुमार और डीएसपी इंद्रजीत बैठा ने कहा कि जब तक पोस्टमार्टम की रिपोर्ट नहीं आ जाती, तब तक मौत के सही कारणों का पता नहीं चल पाएगा। मृतकों की उम्र 35 से लेकर 60 साल थी।

ऐसे शुरू हुआ मौतों का सिलसिला

सबसे पहले गुड़खा थाना इलाके के औधा गांव के रहने वाले मोहम्मद अलाउद्दीन खान की गुरुवार देर शाम मौत हुई। बाद में भुआलपुर से कामेश्वर महतो, रामजीवन, रोहित सिंह, लाल बाबू शाह और जयनाथ सिंह की जान गई। इसके बाद गंभीर हालत में छपरा अस्पताल में भर्ती कराए गए हीरा राय ने शुक्रवार देर शाम दम तोड़ दिया। स्थानीय सूत्रों की मानें तो रामनाथ महतो और शंकर राय नाम के दो शख्स का सदर अस्पताल और एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है।