सीएम योगी का सख्त निर्देश- खनन माफिया की संपत्ति जब्त कर 10 दिन में दें रिपोर्ट, गैंगस्टर लगाएं

सीएम ने कहा कि सोमवार से नवरात्र की शुरुआत हो रही है। इसके बाद विजयादशमी, दशहरा, वाल्मीकि जयंती, दीपावली और छठ जैसे पर्व के चलते माहौल उमंग से भरा होगा। बाजारों में भीड़ होगी। हमें हर समय अलर्ट मोड में रहना होगा।

Strict instructions of CM Yogi - Seize the property of mining mafia and report it in 10 days, put gangster
Strict instructions of CM Yogi - Seize the property of mining mafia and report it in 10 days, put gangster
इस खबर को शेयर करें

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खनन माफिया के खिलाफ निर्णायक कार्रवाई का निर्देश दिया है। उन्होंने फील्ड अफसरों से दो टूक कहा कि इनके खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई करें। संपत्ति जब्त करें और 10 दिनों में मुख्यमंत्री कार्यालय को रिपोर्ट सौंपें। मुरादाबाद और झांसी में अवैध खनन की घटनाओं से बेहद नाराज सीएम योगी ने संबंधित अफसरों को जमकर फटकार लगाई। उन्होंने आगामी त्योहारों को लेकर फील्ड के प्रशासनिक और पुलिस अफसरों के साथ रविवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में ये निर्देश दिए।

योगी ने अफसरों से कहा कि खनन के अलावा ड्रग, शराब व भू माफिया, गो-तस्कर सहित अवैध गतिविधियां चलाने वाले सभी अराजक तत्वों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। अंतरराज्यीय सीमा से लगे जिलों में डीएम और पुलिस अधीक्षक अवैध खनन की गतिविधियों की बारीकी से पड़ताल करें।

फ्री हैंड देने का मतलब वसूली नहीं
सीएम ने एक जिले के कप्तान को चेतावनी देते हुए कहा कि फ्री हैंड देने का यह मतलब नहीं है कि जिले में वसूली हो और अफसर अपराधियों को अपने कार्यालय में बैठाएं। अपराध और अपराधियों के प्रति जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाएं।

मीडिया को जानकारी देने के लिए मुहूर्त देखते हैं कुछ अफसर
मुख्यमंत्री ने कहा कि एक जिले के अफसर की क्लास लगाते हुए कहा कि घटना के बाद मीडिया को जानकारी देने के लिए लोग मुहूर्त देखने लगते हैं। मीडिया को सही जानकारी जल्द से जल्द उपलब्ध कराएं।

मामला संवेदनशील हो तो शीर्ष अफसर करें लीड
‘किसी भी घटना को छोटा मानकर नजरअंदाज न करें। संवेदनशील प्रकरणों में वरिष्ठ अधिकारी लीड करें। मौके पर पहुंचें। जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन के बीच बेहतर तालमेल हो। हाल के दिनों में कुछ जिलों में अप्रिय घटनाएं हुई हैं। इनके दोषियों को कठोरतम सजा हो, इसके लिए प्रभावी अभियोजन सुनिश्चित किया जाए और फास्ट ट्रैक कोर्ट के माध्यम जल्द से जल्द न्याय हो।’
– योगी आदित्यनाथ

त्योहारों पर अलर्ट रहें
सीएम ने कहा कि सोमवार से नवरात्रि की शुरुआत हो रही है। इसके बाद विजयादशमी, दशहरा, वाल्मीकि जयंती, दीपावली और छठ जैसे पर्व के चलते माहौल उमंग से भरा होगा। बाजारों में भीड़ होगी। हमें हर समय अलर्ट मोड में रहना होगा। पुलिस को फुट पेट्रोलिंग बढ़ानी होगी। महिलाओं, बच्चों एवं वरिष्ठ नागरिकों की सुरक्षा को लेकर अतिरिक्त सतर्कता बरतनी होगी।

आस्था और जनभावना का करें पूरा सम्मान
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को निर्देश दिया कि त्योहारों के बीच अनावश्यक बिजली कटौती न हो। तय रोस्टर के अनुसार गांव व शहर में बिजली आपूर्ति की जाए। प्रदेश स्तर पर, कमिश्नरेट और रेंज स्तर पर कंट्रोल रूम एक्टिव किए जाएं। एडीजी कानून-व्यवस्था द्वारा निगरानी की जाए। प्रदेश में परंपरागत रूप से 44 हजार से अधिक स्थलों पर मां दुर्गा की प्रतिमाएं रखी जाती रही हैं। इसके अतिरिक्त भी प्रतिमाओं की स्थापना होती है।

पूजा समितियों से संवाद करें। प्रयास करें कि प्रतिमा की स्थापना सुरक्षित स्थान जैसे सार्वजनिक पार्क आदि में हो, ताकि सड़क पर सामान्य यातायात प्रभावित न हो। प्रतिमा विसर्जन के समय पुलिस बल की तैनाती के लिए स्थानीय जरूरतों के मुताबिक रणनीति तैयार करें। विसर्जन के लिए समितियों से संवाद कर अस्थायी तालाब का निर्माण कराया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि देर रात तक चलने वाली रामलीला के मंचन के दौरान सुरक्षा व्यवस्था दुरुस्त हो।