बीटेक के छात्रों का अनोखा कारनामा! एटीएम से पैसे निकालते थे कैश ट्रे, बैंक के साथ करोड़ों की ठगी

गोरखपुर पुलिस (Gorakhpur Police) ने बीटेक छात्रों (BTec Students) के जालसाज गैंग का खुलासा किया है. दिलचस्प है कि शातिर बीटेक छात्र एटीएम फ्राड (Unique ATM Fraud) के जरिए बैंक को सालों से चूना लगा रहे थे.

Unique feat of B.Tech students! Cash trays used to withdraw money from ATM, fraud of crores with bank
Unique feat of B.Tech students! Cash trays used to withdraw money from ATM, fraud of crores with bank
इस खबर को शेयर करें

गोरखपुर. गोरखपुर पुलिस (Gorakhpur Police) ने बीटेक छात्रों (BTec Students) के जालसाज गैंग का खुलासा किया है. दिलचस्प है कि शातिर बीटेक छात्र एटीएम फ्राड (Unique ATM Fraud) के जरिए बैंक को सालों से चूना लगा रहे थे. पुलिस ने आरोपी दोनों बीटेक छात्रों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार जालसाजों के पास से कार, बाइक, 71 हजार नगदी, एटीएम और मोबाइल बरामद किया गया है. राजघाट पुलिस ने शातिर जालसाजों विजय यादव और फैज को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार दोनों जालसाज बीटेक तीसरे सैमेस्टर के छात्र हैं.

वहीं मामले का खुलासा करते हुए एसपी सिटी कृष्ण कुमार विश्नोई ने बताया है कि दरअसल गिरफ्तार दोनों आरोपी प्राइवेट कॉलेज में इंजीनियरिंग के छात्र हैं. एटीएम के कैश डिपॉजिट मशीन के जरिए ठगी किया करते थे. एसपी सिटी ने खुलासे के दौरान बताया है कि दरअसल ट्रॉजेक्शन प्रक्रिया पूरी होने से पहले शातिर ट्रे के बाहर आते ही नगदी निकाल कर उसे अंदर धकेल दिया करते थे, जिससे प्रक्रिया पूरी हुए बगैर ट्रे के अंदर चले जाने की वजह से ट्रॉजेक्सन होने के बावजूद एटीएम मशीन ट्राजेक्शन एरर बताया करता था.

इसके बाद ऐसे में शातिर जालसाज कस्टमर केयर पर ट्रॉजेक्शन एरर की क्लेम के जरिए दोबारा पैसे हासिल कर लेते थे. एसपी सिटी ने बताया हैं कि गिरफ्तार जालसाजों के बीटेक छात्रों ने पांच एटीएम से करीब छह लाख की नगदी निकाल कर बैंक को चूना लगाया था. एटीएम फ्राड को शक होने पर बैंक अधिकारियों ने राजघाट पुलिस से संपर्क किया था.जिस पर राजघाट थानेदार राजेन्द्र सिंह ने इस पूरे मामले की गहराई से पड़ताल की तो शातिर जालसाजों के बीटेक छात्रों का कारनामा उजागर हुआ.