अभी अभीः यूपी एटीएस को बड़ी कामयाबी, कानपुर से जैश का आतंकी हबीबुल दबोचा

कानपुर से गिरफ्तार किया गया आतंकी हबीबुल इस्लाम उर्फ सैफुल्ला सोशल मीडिया पर फेक आईडी बनाने में माहिर था और इसके जरिए पाकिस्तान और अफगानिस्तान में बैठे कई हैंडलर्स से जुड़ा हुआ था।

Just now: Big success for UP ATS, Jaish terrorist Habibul nabbed from Kanpur
Just now: Big success for UP ATS, Jaish terrorist Habibul nabbed from Kanpur
इस खबर को शेयर करें

लखनऊ। यूपी एटीएस ने आतंकवादी संगठन जैश ए मुहम्मद से जुड़े आतंकी हबीबुल इस्लाम उर्फ सैफुल्ला को कानपुर से गिरफ्तार किया है। पूछताछ में उसने कबूल किया कि वह बीते दिनों गिरफ्तार किए गए आतंकी मुहम्मद नदीम से जुड़ा हुआ था और सोशल मीडिया पर उसकी फेक आईडी बनाई थी।

आतंकी सैफुल्ला ने स्वीकार किया कि वह नदीम को जानता है और दोनों एक ही आतंकी संगठन जैश ए मुहम्मद से जुड़े हुए हैं। सैफुल्ला वर्चुअल आईडी बनाने में विशेषज्ञ है और इसी ने नदीम सहित कई पाकिस्तानी और अफगानिस्तानी आतंकियों को लगभग 50 आईडी बनाकर दी थी। हबीबुल सोशल मीडिया के माध्यमों जैसे टेलीग्राम, वाट्सएप, फेसबुक मैसेंजर के जरिए पाकिस्तान और अफगानिस्तान में बैठे हैंडलर्स से जुड़ा हुआ था।

वह सोशल मीडिया पर बने ग्रुप में जेहादी वीडियो बनाकर भेजता था और अन्य लोगों को भी इसके लिए प्रेरित करता था। एटीएस को उसके पास एक मोबाइल फोन व एक चाकू बरामद हुआ है। वह वर्तमान में फतेहपुर जिले के मुहल्ला सैय्यदबाड़ा में रह रहा था जबकि स्थायी रूप से बिहार के मोतिहारी का रहने वाला है।

जैश ए मोहम्मद और तहरीक ए तालिबान, पाकिस्तान से जुड़े आतंकी और नूपुर शर्मा की हत्या की साजिश रचने के आरोपी मोहम्मद नदीम को शनिवार को रिमांड मजिस्ट्रेट अंकिता शर्मा के सामने पेश किया गया। रिमांड मजिस्ट्रेट ने नदीम को 14 दिन के लिए जेल भेज दिया। गौरतलब है कि एटीएस ने शुक्रवार को नदीम को सहारनपुर से गिरफ्तार किया था। पूछताछ में नदीम ने बताया कि उसे नूपुर शर्मा की हत्या का काम सौंपा गया था। इसके अतिरिक्त स्वतंत्रता दिवस से पहले देश में आतंकी घटनाओं को अंजाम देना था। एटीएस ने आतंकी के पास से आईईडी और बम बनाने की जानकारी देने वाली सामग्री भी बरामद की है। कोर्ट में अवकाश के चलते आरोपी को रिमांड मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया।