पत्नी की नींद लगते ही दूसरे कमरे में पहुंचा पति, ढूंढा तो दूसरे कमरे में…

राजस्थान के टोंक जिले में एक सरकारी टीचर की खुदकुशी का मामला सामने आया है. बनेठा कस्बे में रहने वाले टीचर ने पत्नी के सो जाने के बाद दूसरे कमरे में जाकर फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली

Know about IAS Inayat Khan who performed Jalabhishek on Shivling, PM Modi has also praised
Know about IAS Inayat Khan who performed Jalabhishek on Shivling, PM Modi has also praised
इस खबर को शेयर करें

टोंक। राजस्थान के टोंक जिले में एक सरकारी टीचर की खुदकुशी का मामला सामने आया है. बनेठा कस्बे में रहने वाले टीचर ने पत्नी के सो जाने के बाद दूसरे कमरे में जाकर फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली. फिलहाल पुलिस ने पोस्टमार्टम करा शव परिजनों को सौंप दिया गया है. मामले की जांच जारी है.

परिजनों से मिली जानकारी के अनुसार, मृतक हेमराज रैगर सवाई माधोपुर जिले में चौथ का बरवाड़ा क्षेत्र स्थित कंवरपुरा गांव में राजकीय प्राथमिक विद्यालय में टीचर था. पिछले तीन माह से वह शारीरिक दुर्बलता के रोग से पीड़ित था. इसी रोग के चलते वह मानसिक तनाव और अवसाद में रहा करता था. बीती रात वह अपने कमरे में काफी देर तक पत्नी से बातचीत करता रहा. जब पत्नी गहरी नींद में सो गई तो वह दूसरे कमरे में पहुंचा और फांसी के फंदे पर झूल गया.

नींद खुलने पर पति बेड से गायब दिखा तो पत्नी ने घर में उसको ढूंढ़ा, और जब वह दूसरे कमरे में पहुंची तो पति उसे फांसी के फंदे पर झूलता हुआ दिखाई दिया. शोरगुल मचाने पर अन्य परिजन भी आ गए. उन्होंने हेमराज के शव को फंदे से नीचे उतारा. फिर स्थानीय बनेठा थाने को मामले की जानकारी दी गई.

केस की गंभीरता को देखते हुए थाना पुलिस के अलावा सीओ उनियारा शकील अहमद भी मौके पर पहुंचे. जिला मुख्यालय से एफएसएल को भी बुलाया गया. पंचनामा बनाकर शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजा गया. फिलहाल पुलिस ने पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया गया है. रिपोर्ट आनी बाकी है.

बनेठा थाने के एएसआई बालकिशन शर्मा ने बताया, हमें सूचना मिली थी कि बनेठा कस्बे में हेमराज रैगर नामक टीचर ने फांसी के फंदे पर झूल आत्महत्या कर ली. जब पुलिस वहां पहुंची तो परिजन उसका शव उतार चुके थे. मामले की गंभीरता को देखते हुए सीओ उनियारा तो मौके पर आए और एफएसएल टीम को भी मुख्यालय से बुलाया गया.

पूछताछ में पता चला कि पिछले दो-तीन माह से शारीरिक दुर्बलता की बीमारी के चलते गहरे अवसाद में था. मौके पर किसी तरह का सुसाइड नोट नहीं मिला है. पुलिस ने पोस्टमार्टम करा शव परिजनों को सौंप दिया है और मामला दर्ज कर जांच प्रारंभ कर दी है.