मुजफ्फरनगर में छात्रों को नौकरी दिलाने के नाम पर ठगने वाले चार गिरफ्तार

थाना सिविल लाइन पुलिस ने नौकरी के नाम पर ठगी करने वाले चार अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है। एसपी सिटी अर्पित विजयवर्गीय ने जानकारी देते हुए बताया कि जनपद मुजफ्फरनगर सहित कई जिलों में सक्रिय ठग गैंग चला रहे थे

Four arrested for cheating students in the name of getting jobs in Muzaffarnagar
Four arrested for cheating students in the name of getting jobs in Muzaffarnagar
इस खबर को शेयर करें

मुजफ्फरनगर। थाना सिविल लाइन पुलिस ने नौकरी के नाम पर ठगी करने वाले चार अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है।

एसपी सिटी अर्पित विजयवर्गीय ने जानकारी देते हुए बताया कि जनपद मुजफ्फरनगर सहित कई जिलों में सक्रिय ठग गैंग चला रहे थे जो विभिन्न कोचिंग सेंटरों में नौकरी की तैयारी कर रहे छात्रों को अपने विश्वास में लेकर नौकरी दिलाने के नाम पर 20-25 लाख रुपये की वसूली करते थे। उन्होंने बताया कि नौकरी के नाम पर ट्रेनिंग के लिए लखनऊ में भेजा करते थे जहां पर ट्रेनिंग के दौरान उनके खातों में सैलरी के नाम पर कुछ रकम भेज दिया करते थे, जिससे ट्रेनिंग कर रहे युवाओं को विश्वास हो जाता था कि उनकी सरकारी नौकरी लग गई है।

उन्होंने बताया कि गिरफ्तार किए गए अभियुक्तों में से दो अभियुक्त डाक विभाग में संविदा पर कार्यरत हैं, जिसका यह उदाहरण देकर बेरोजगार युवाओं को उनसे मिलवाया करते थे और उन्हें विश्वास में लेते थे।

चार अभियुक्तों में से मोहम्मद राशिद पुत्र नत्थू इस पूरे प्रकरण का मास्टरमाइंड था जो कि लखनऊ का निवासी है। साथियों ने अवगत कराया कि रोहित व लक्की पांडे भी लखनऊ के निवासी हैं और अंकित वर्मा बाराबंकी का रहने वाला है। बता दें कि इन चारों अभियुक्तों पर पहले भी कई मुकदमे दर्ज हैं। थाना सिविल लाइन पुलिस ने शातिर ठगों से एक बोलेरो कार भी बरामद की है।