हॉकी खेलने से रोका तो घर छोड़ा: स्कूल जाने की कहकर निकली हरियाणा की छात्रा, कोटा पहुंची

हॉकी खेलने देने से रोकने पर हरियाणा की रहने वाली एक नाबालिग छात्रा इतना नाराज हुई थी उसने घर ही छोड़ दिया। बालिका को कोटा में दस्तयाब किया गया है। फिलहाल उसे बालिका गृह में भिजवाया गया है।

Left home if stopped from playing hockey: Haryana girl student came out asking to go to school, reached Kota
Left home if stopped from playing hockey: Haryana girl student came out asking to go to school, reached Kota
इस खबर को शेयर करें

कोटा: हॉकी खेलने देने से रोकने पर हरियाणा की रहने वाली एक नाबालिग छात्रा इतना नाराज हुई थी उसने घर ही छोड़ दिया। बालिका को कोटा में दस्तयाब किया गया है। फिलहाल उसे बालिका गृह में भिजवाया गया है। सीडब्ल्यूसी सदस्य विमल चंद जैन ने बताया कि हरियाणा के पलवल की रहने वाली 16 साल की छात्रा को हॉकी खेलने का शौक है।

वह हॉकी की प्रैक्टिस भी करती है लेकिन घर वाले उसे खेलने से मना करते हैं। पिछले कई दिनों से हॉकी स्टिक भी मंगवा रही थी लेकिन उसे लाकर नहीं दी गई। 2 दिन पहले उसका अपने भाई के साथ भी झगड़ा हो गया। जिससे वह और ज्यादा नाराज हो गई। इसके बाद वहां स्कूल जाने की बात कहकर घर से निकली और स्कूल जाने की जगह दिल्ली पहुंच गई।

रेलवे स्टेशन पहुंचकर वह राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन में बैठ गई। रास्ते में टीटी ने उससे टिकट मांगा तो वह दिखा नहीं सकती जिसके बाद टीटी ने जब उससे जानकारी ली तो बालिका ने पूरी बात बताई। ट्रैन जब कोटा पहुंची तो बालिका को टीटी ने पुलिस के सुपुर्द कर दिया। पुलिस ने चाइल्ड लाइन को सूचना देकर बालिका को बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश किया जहां से फिलहाल बालिका को बालिका गृह में आश्रय दिलाया गया है। बालिका के परिजनों को भी सूचना करवा दी गई है उनके आने के बाद बालिका की काउंसलिंग की जाएगी।