अभी अभीः राकेश टिकैत ने किया जय जवान-जय किसान आंदोलन का ऐलान, 7 अगस्त से मुजफ्फरनगर, मथुरा, मेरठ में

केन्द्र सरकार द्वारा सेना भर्ती के लिए लाई गई 'अग्निपथ' योजना के विरोध में अब भारतीय किसान यूनियन संयुक्त किसान मोर्चा के आह्नान पर देशव्यापी आंदोलन करने की तैयारी कर चुकी है। इसके लिए भाकियू नेता राकेश टिकैत ने किसानों से तिरंगा और ट्रैक्टर लेकर तैयार रहने का आह्नान किया है।

Just now: Rakesh Tikait announced Jai Jawan-Jai Kisan Andolan, in Muzaffarnagar, Mathura, Meerut from August 7
Just now: Rakesh Tikait announced Jai Jawan-Jai Kisan Andolan, in Muzaffarnagar, Mathura, Meerut from August 7
इस खबर को शेयर करें

मुजफ्फरनगर। केन्द्र सरकार द्वारा सेना भर्ती के लिए लाई गई ‘अग्निपथ’ योजना के विरोध में अब भारतीय किसान यूनियन संयुक्त किसान मोर्चा के आह्नान पर देशव्यापी आंदोलन करने की तैयारी कर चुकी है। इसके लिए भाकियू नेता राकेश टिकैत ने किसानों से तिरंगा और ट्रैक्टर लेकर तैयार रहने का आह्नान किया है। इस बार जहां केन्द्र सरकार पूरे देश में हर घर तिरंगा अभियान के साथ 75वां आजादी का अमृत महोत्सव एक अलग अंदाज में मनाने जा रही है तो किसान संगठनों ने भी सरकार के खिलाफ राष्ट्रवाद के रास्ते ही आंदोलन की डगर चलने का मन बना लिया है। अब किसान संगठन किसानों को साथ लेकर केन्द्र सरकार की नीतियों के विरोध में देश के जवानों को जगाने का काम करेंगे। इसके लिए पूरा कार्यक्रम जारी कर दिया गया है।

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय महासचिव चौ. युद्धवीर सिंह ने प्रेस बयान जारी करते हुए बताया कि संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर 7 अगस्त से 14 अगस्त तक जय जवान जय किसान कार्यक्रम के तहत भारतीय किसान यूनियन देश प्रदेश के अलग अलग हिस्सों में किसान पंचायतों का आयोजन कर रही है। वहीं भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कहा कि इस बार देश का किसान मेरा ट्रैक्टर मेरा तिरंगा अभियान चलाकर स्वतंत्रता दिवस की 75वीं वर्षगांठ मनायेगा। उन्होंने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर ‘अग्नीपथ’ योजना के विरोध में पूरे देश में 7 अगस्त से 14 अगस्त तक जय जवान जय किसान सम्मेलन किए जाएंगे। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय महासचिव चौधरी युद्धवीर सिंह ने कहा कि जय जवान जय किसान कार्यक्रम के तहत भारतीय किसान यूनियन जगह-जगह किसानों को साथ लेकर पंचायतें करेगी और इस कानून की कमियां जवानों को बताएगी।

इस कार्यक्रम का आगाज 7 अगस्त को मानागढ़ी मथुरा में होने वाली पंचायत से किया जाएगा, जिसमें भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता चौधरी राकेश टिकैत शामिल होंगे। इसके साथ ही उन्होंने इस आंदोलन की कड़ी में किसान नेता राकेश टिकैत के विभिन्न जनपदों में होने वाली पंचायतों में शामिल होने का कार्यक्रम भी जारी किया है। इसके तहत 7 अगस्त को मानागढ़ी मथुरा में पहली पंचायत होगी। जबकि राकेश टिकैत इसके बाद 9 अगस्त को जनपद मुजफ्फरनगर के बुढ़ाना क्षेत्र के गांव बिटावदा में आयोजित पंचायत में भाग लेंगे। 10 अगस्त को गांव चिंदौड़ी जनपद मेरठ और चौथी पंचायत 14 अगस्त को जनपद मेरठ के गांव छुर में आयोजित की जायेगी।

बता दें कि जनपद मुजफ्फरनगर में 20 सितम्बर से ‘अग्निपथ’ योजना के तहत एआरओ मेरठ के द्वारा मुजफ्फरनगर सहित 13 जनपदों के युवाओं के लिए भर्ती रैली की तैयारी की जा रही है। इसके लिए आज मुजफ्फरनगर पहुंचे सैन्य अफसरों ने पुलिस और प्रशासन के अफसरों के साथ मीटिंग करते हुए भर्ती रैली के कार्यक्रम के तहत रूपरेखा बनाई है। अब देखना यह होगा कि किसान संगठनों के इस अंादोलन का इस भर्ती रैली पर क्या प्रभाव पड़ता है। ‘अग्निपथ’ योजना के तहत सेना में भर्ती होने वाले जवानों को केवल 4 साल नौकरी का अवसर मिलेगा। इसी को लेकर विरोध किया जा रहा है।